ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारकथित मंगलराज का रहनुमा और वारिस कौन? बिहार के लॉ एंड ऑर्डर पर तेजस्वी का तंज, JDU ने किया पलटवार

कथित मंगलराज का रहनुमा और वारिस कौन? बिहार के लॉ एंड ऑर्डर पर तेजस्वी का तंज, JDU ने किया पलटवार

तेजस्वी यादव ने पटना में हुई गोलीबारी एवं छिनतई, बैंक लूट और राहगीरों से लूटपाट की 20 अलग-अलग घटनाओं का जिक्र किया। न्होंने बढ़ते अपराध को लेकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री से जवाब की मांग की है।

कथित मंगलराज का रहनुमा और वारिस कौन? बिहार के लॉ एंड ऑर्डर पर तेजस्वी का तंज, JDU ने किया पलटवार
Sudhir Kumarहिन्दुस्तान,पटनाSun, 16 Jun 2024 06:11 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के छोटे लाल तेजस्वी यादव ने राज्य में बढ़ते अपराध की घटनाओं को लेकर एनडीए सरकार पर हमला बोला। सवाल किया कि कथित मंगलराज का रहनुमा, अगुआ और वारिस कौन है? उन्होंने पटना एवं अन्य जिलों में सिर्फ गोलीबारी की घटनाओं की सूची जारी की है। शनिवार को राजधानी पटना में बदमाशों ने एक्सिस बैंक से दिन दहाड़े 18 लाख लूट लिए। राज्य के कई जिलों से हत्या की खबरें आईं। इनसे विपक्षी दलों को नीतीश सरकार पर हमला करने का मौका मिल गया है।

शनिवार को सोशल मीडिया के माध्यम से बिहारवासियों के नाम जारी पत्र में उन्होंने बढ़ते अपराध को लेकर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री एवं मंत्रियों से जवाब की मांग की। राज्य में सत्ता संरक्षित अपराधियों द्वारा अपराध की घटनाओं को अंजाम देने का आरोप लगाया। कहा कि कहीं भी, कभी भी और किसी के साथ अपराध की घटनाएं हो सकती है। उन्होंने इससे लोगों को सतर्क, सचेत और सावधान किया। उन्होंने पटना में हुई गोलीबारी एवं छिनतई, बैंक लूट और राहगीरों से लूटपाट की 20 अलग-अलग घटनाओं का जिक्र किया। कहा कि पूरे बिहार के आपराधिक वारदाताओं का जिक्र करूंगा तो अपराध के वर्णन के लिए कोई विशेषण नहीं मिलेगा। 

बीजेपी केंद्र में रहे या राज्य में पेपर लीक तय है, नीट परीक्षा को लेकर तेजस्वी का मोदी सरकार पर हमला

तेजस्वी के प्रवचन की जरूरत नहीं

तेजस्वी यादव के जुबानी हमले पर जदयू ने पलटवार किया है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा है कि जो राजद जंगलराज के लिए कुख्यात हो और जिसके कुशासन को याद कर के आज भी बिहारियों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं, उसके युवराज (तेजस्वी) के मुंह से कानून व्यवस्था पर प्रवचन सुन किसी को भी हंसी आ जायेगी। उनका कहना है कि कि राजद के नेताओं के मुंह से कानून पर ज्ञान देना उतना ही हास्यास्पद है, जैसे पाकिस्तान भारत को शांति और अमन की सीख देता है। 

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि राजद के युवराज अगर इतना जान लें कि उनके माता-पिता के राज को जंगलराज किसने और क्यों कहा था तो उनकी बोलती बंद हो जायेगी। अगर वह बयान देने के साथ-साथ थोड़ा इतिहास पढ़ना शुरू कर दें तो उन्हें पता चल जाएगा कि आज के सुशासन और उनके समय के शासन में क्या अंतर है। उन्हें पता चल जाएगा कि खौ़फ क्या होता है।