ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारपूर्वी क्षेत्रीय परिषद की मीटिंग में किन मुद्दों पर हुई चर्चा? अमित शाह ने क्या कहा? जानिए

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की मीटिंग में किन मुद्दों पर हुई चर्चा? अमित शाह ने क्या कहा? जानिए

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद के सदस्य राज्यों में बच्चों और महिलाओं के स्वास्थ्य व शिक्षा से जुड़ी योजनाओं की हर तीन माह पर उच्चस्तरीय समीक्षा होगी। गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि बैठक बहुत अच्छी रही।

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की मीटिंग में किन मुद्दों पर हुई चर्चा? अमित शाह ने क्या कहा? जानिए
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,पटनाSun, 10 Dec 2023 09:27 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्वी क्षेत्रीय परिषद के सदस्य राज्यों में बच्चों और महिलाओं के स्वास्थ्य व शिक्षा से जुड़ी योजनाओं की हर तीन माह पर उच्चस्तरीय समीक्षा होगी। रविवार को गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में पटना में सीएम सचिवालय में हुई परिषद की 26वीं बैठक में यह निर्णय हुआ। दोपहर दो बजे शुरू हुई बैठक करीब तीन घंटे तक चली। इसमें बच्चों में कुपोषण को दूर करने, स्कूलों में छीजन दर (ड्रॉपआउट) कम करने, आयुष्मान भारत योजना में सरकारी अस्पतालों की भागीदारी, महिलाओं और बच्चों के खिलाफ दुष्कर्म के मामलों की त्वरित जांच और इसके शीघ्र निपटारे के लिए फास्ट ट्रैक विशेष न्यायालयों का कार्यान्वयन आदि विषयों की हर तीन माह पर समीक्षा पर सहमति बनी। यह समीक्षा सदस्य राज्यों के मुख्यमंत्री, मंत्री व मुख्य सचिव के स्तर पर होगी। 

21 एजेंडों पर हुई चर्चा
बैठक में कुल 21 एजेंडों पर चर्चा हुई। गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि बैठक बहुत अच्छी रही। जो भी मुद्दे थे, उन पर कोई न कोई निर्णय हुआ है। कुछ मुद्दों में कमेटी बनी तो कुछ का समाधान किया गया। पूर्वी क्षेत्रीय परिषद की अगली बैठक रांची में किए जाने पर भी सहमति बनी। श्री शाह ने कहा कि क्षेत्रीय परिषद की बैठकों में राजनीतिक मामलों पर मतभेद भुलाकर उदारवादी तरीके से मामलों को सुलझाने का प्रयास करना चाहिए। 

आप पूरा डिटेल दीजिये, मैं देखता हूं... नीतीश के मंत्री की इस मांग पर बोले अमित शाह

1157 मुद्दों को सुलझाया गया
प्रत्येक गांव के पांच किमी के भीतर बैंकों/इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक शाखाओं की सुविधा, देश में दो लाख नई पैक्सों की स्थापना और सभी पैक्सों को मजबूत करने को भी समीक्षा में शामिल किया जाएगा। श्री शाह ने कहा कि क्षेत्रीय परिषदों की बैठकों में 1157 मुद्दों को सुलझाया गया है। राष्ट्रीय महत्व के अनेक मुद्दों को भी बैठकों के एजेंडे में शामिल किया गया है। इसमें खनन, कुछ मदों में केन्द्रीय आर्थिक सहायता, बुनियादी सुविधाओं का निर्माण, भूमि अधिग्रहण एवं भूमि स्थानांतरण, जल बंटवारा, प्रत्यक्ष लाभ अंतरण स्कीम का कार्यान्वयन, राज्य पुनर्गठन से संबंधित मुद्दे तथा क्षेत्रीय स्तर के सामान्य हित के विषयों पर भी चर्चा हुई। 

ये रहे बैठक में शामिल
बिहार : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा
पश्चिम बंगाल : मंत्री चन्द्रमा भट्टाचार्य
ओडिशा : मंत्री प्रदीप कुमार आम्त, मंत्री तुषार कान्ति बेहरा
झारखंड : मंत्री रामेश्वर उरांव, मंत्री चम्पई सोरेन
इसके अलावा केन्द्र सरकार के सचिवगण, चारों राज्यों के मुख्य सचिव, बिहार के पुलिस महानिदेशक, पूर्वी क्षेत्रीय परिषद् की सचिव तथा केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकारों के वरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें