ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपटना से बक्सर तक अचानक बदला मौसम; तेज आंधी के साथ बारिश, जानिए बाकी जिलों का हाल

पटना से बक्सर तक अचानक बदला मौसम; तेज आंधी के साथ बारिश, जानिए बाकी जिलों का हाल

पटना समेत राज्य के कई जिलों में अगले 3 घंटे तक तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना जताई गई है। पूर्वी चंपारण में आंधी में सौ साल पुराना पेड़ गिरने से एक महिल की मौत हो गई। जबकि 7 लोग जख्मी हैं।

पटना से बक्सर तक अचानक बदला मौसम; तेज आंधी के साथ बारिश, जानिए बाकी जिलों का हाल
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाThu, 06 Jun 2024 09:29 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के कई जिलों में आज सुबह अचानक मौसम बदल गया। जब तेज आंधी के साथ बारिश हुई। मौसम विभाग ने अगले 3-4 घंटे तक तेज हवाओं के साथ बारिश और वज्रपात की संभावना जताई है। पूर्वी चंपारण, सारण, सीतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, वैशाली, पटना, भोजपुर, बक्सर जिले में अगले 3 घंटे में आंधी के साथ बारिश हो सकती है। वहीं पटना में आज सुबह से मौसम सुहावना हो गया। तेज आंधी के चलते दिक्कतों का भी सामना करना पड़ा। बक्सर में भी सुबह से तेज आंधी चली। 

वहीं गुरुवार तक दिन में मौसम के तेवर तल्ख रहे। राज्य के अधिकतर जिलों में अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री तक का इजाफा हुआ।  उत्तर-पश्चिम, उत्तर-मध्य और दक्षिण-मध्य भाग में गर्म और आर्द्र मौसम रहा। इससे पसीने वाली गर्मी लोगों को झेलनी पड़ी। पटना में भी उमस भरी गर्मी की स्थिति बनी रही। फिलहाल बारिश का कोई मजबूत सक्रिय सिस्टम सूबे में नहीं है। ऐसे में उत्तर बिहार के कुछ जिलों को छोड़कर आठ जून तक कमोबेश ऐसे ही हालात रहेंगे। 

उत्तर बिहार के कुछ जिलों में आंशिक बारिश के आसार उत्तरी भाग के सहरसा, बांका, जमुई, भागलपुर, मुंगेर, कटिहार, पूर्णिया, मधेपुरा, सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधुबनी जिले में गरज-तड़क के साथ तेज हवा के साथ हल्की बारिश की हुई। वहीं पूर्वी चंपारण सुगौली नगर में बीती रात आयी तेज आंधी में पेड़ गिरने से घर में सोयी महिला की मौत हो गयी। वहीं सात गंभीर रूप से घायल हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार, तेज आंधी के कारण करीब सौ साल पुराना विशाल पेड़ गिरने से तीन घर ध्वस्त हो गए। घटना में दो घर में सोये सभी लोग उसकी चपेट में आ गए। जबकि तीसरे घर में कोई नहीं था। घटना में रफीक मियां की पत्नी मोमिना खातून(40) की मौत मौके पर हो गयी। वहीं मो.रफीक (35), फैसल आलम (6), राजा आलम (17), रौशन खातून (6), मुन्नी खातून (50) व गुलशन खातून (45), मो ताज(42) गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना के बाद चारो ओर अफरातफरी की स्थिति हो गयी। सूचना पर पहुंची नगर व पुलिस प्रशासन ने पेड़ की डालियों को काटकर घायलों को घरों से बाहर निकाला। वहीं एम्बुलेंस बुलवा घायलों को इलाज के लिए पीएचसी भेजा गया। घटना के बाद गांव में कोहराम मचा है।