ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिहार में पिछड़ा, दलित, आदिवासी से ज्यादा बेघर हैं सवर्ण, पक्का मकान में भी सामान्य वर्ग आगे

बिहार में पिछड़ा, दलित, आदिवासी से ज्यादा बेघर हैं सवर्ण, पक्का मकान में भी सामान्य वर्ग आगे

बिहार में पिछड़ा, दलित, आदिवासी से ज्यादा बेघर सवर्ण हैं। वहीं पक्का मकान में भी सामान्य वर्ग आगे हैं। सरकार की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार सामान्य वर्ग के कुल परिवारों की संख्या 43,28,282 है।

बिहार में पिछड़ा, दलित, आदिवासी से ज्यादा बेघर हैं सवर्ण, पक्का मकान में भी सामान्य वर्ग आगे
Malay Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,पटनाTue, 07 Nov 2023 05:17 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार की नीतीश सरकार ने मंगलवार को विधानमंडल के दोनों सदनों में जाति आधारित गणना की पूरी रिपोर्ट पेश कर दी, जिसमें सामाजिक आर्थिक सर्वेक्षण के आंकड़े भी शामिल हैं। संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी ने जाति आधारित गणना की पूरी रिपोर्ट को सदन के पटल पर रखा। इस रिपोर्ट में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। रिपोर्ट के अनुसार राज्य में पिछड़ा, दलित, आदिवासी से ज्यादा बेघर सवर्ण हैं। वहीं पक्का मकान में भी सामान्य वर्ग आगे हैं। राज्य सरकार की ओर से जारी किए गए रिपोर्ट के अनुसार सूबे में सामान्य वर्ग के कुल परिवारों की संख्या 43,28,282 है। इनमें 51.54 फीसदी (22,30,802) परिवारों के पास पक्का मकान (दो या दो से अधिक कमरा) है। 

पक्का मकान (2 या 2 से अधिक कमरा)
सामान्य वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 43, 28, 222
आंकड़ा: 22,30, 802
प्रतिशत 51.54%

पिछड़ा वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 74,73,529
आंकड़ा: 32,49, 149
प्रतिशत: 43.47%

अत्यंत पिछड़ा वर्ग
परिवार की कुल संख्या: 98,84,904
आंकड़ा: 32,22,429
प्रतिशत: 32.62%

अनुसूचित जाति
परिवार की कुल संख्या: 54,72,024
आंकड़ा: 13,27,257
प्रतिशत: 24.26

अनुसूचित जनजाति
परिवार की कुल संख्या: 4,70,256
आंकड़ा: 1,21,313
प्रतिशत: 25.81%

अन्य प्रतिवेदित जातियां
परिवार की कुल संख्या: 39,935
आंकड़ा: 21,156
प्रतिशत: 52.98%

कुल संख्या: 2,76,68,930
आंकड़ा 1,01,72,126
प्रतिशत: 36.76%

बिहार में लागू हो 65 फीसदी आरक्षण, जातीय जनगणना के बाद नीतीश कुमार का नया दांव

पक्का मकान (एक कमरा)
सामान्य वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 43, 28, 222
आंकड़ा: 9,93, 225
प्रतिशत: 22.95%

पिछड़ा वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 74,73,529
आंकड़ा: 15,43, 550
प्रतिशत: 20.65%

अत्यंत पिछड़ा वर्ग
परिवार की कुल संख्या: 98,84,904
आंकड़ा: 22,69,966
प्रतिशत: 22.96%

अनुसूचित जाति
परिवार की कुल संख्या: 54,72,024
आंकड़ा: 13,96,574
प्रतिशत: 23.69

अनुसूचित जनजाति
परिवार की कुल संख्या: 4,70,256
आंकड़ा: 79,346
प्रतिशत: 16.87%

अन्य प्रतिवेदित जातियां
परिवार की कुल संख्या: 39,935
आंकड़ा: 6,846
प्रतिशत: 17.14%

खपरैल/टीन छत
सामान्य वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 43, 28, 222
आंकड़ा: 8,35, 971
प्रतिशत: 19.31%

पिछड़ा वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 74,73,529
आंकड़ा: 19,19, 034
प्रतिशत: 25.68%

अत्यंत पिछड़ा वर्ग
परिवार की कुल संख्या: 98,84,904
आंकड़ा: 28,37,934
प्रतिशत: 28.71%

अनुसूचित जाति
परिवार की कुल संख्या: 54,72,024
आंकड़ा: 15,50,936
प्रतिशत: 28.34

अनुसूचित जनजाति
परिवार की कुल संख्या: 4,70,256
आंकड़ा: 1,92,632
प्रतिशत: 40.96%

अन्य प्रतिवेदित जातियां
परिवार की कुल संख्या: 39,935
आंकड़ा: 7,854
प्रतिशत: 19.67%

झोपड़ी
सामान्य वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 43, 28, 222
आंकड़ा: 2,54, 981
प्रतिशत: 5.89%

पिछड़ा वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 74,73,529
आंकड़ा: 7,50, 174
प्रतिशत: 10.04%

अत्यंत पिछड़ा वर्ग
परिवार की कुल संख्या: 98,84,904
आंकड़ा: 15,31,482
प्रतिशत: 15.49%

अनुसूचित जाति
परिवार की कुल संख्या: 54,72,024
आंकड़ा: 12,83,215
प्रतिशत: 23.45

अनुसूचित जनजाति
परिवार की कुल संख्या: 4,70,256
आंकड़ा: 75,625
प्रतिशत: 16.08%

अन्य प्रतिवेदित जातियां
परिवार की कुल संख्या: 39,935
आंकड़ा: 3,619
प्रतिशत: 9.06

आवासहीन
सामान्य वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 43, 28, 222
आंकड़ा: 13,303
प्रतिशत: 0.31%

पिछड़ा वर्ग 
परिवार की कुल संख्या: 74,73,529
आंकड़ा: 11,602
प्रतिशत: 0.16%

अत्यंत पिछड़ा वर्ग
परिवार की कुल संख्या: 98,84,904
आंकड़ा: 23,0,93
प्रतिशत: 0.23%

अनुसूचित जाति
परिवार की कुल संख्या: 54,72,024
आंकड़ा: 14,0,42
प्रतिशत: 0.26

अनुसूचित जनजाति
परिवार की कुल संख्या: 4,70,256
आंकड़ा: 13,40
प्रतिशत: 0.28%

अन्य प्रतिवेदित जातियां
परिवार की कुल संख्या: 39,935
आंकड़ा: 460
प्रतिशत: 1.15

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें