ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार'महंगाई का म, गरीब का ग, बेरोजगारी का ब नहीं बोल पा रहे...', पीएम मोदी पर तेजस्वी का तंज

'महंगाई का म, गरीब का ग, बेरोजगारी का ब नहीं बोल पा रहे...', पीएम मोदी पर तेजस्वी का तंज

महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी पर हमला बोलते हुए तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री महंगाई का म, बेरोजगारी का ब, गरीबी का ग नहीं बोल पाते हैं।

'महंगाई का म, गरीब का ग, बेरोजगारी का ब नहीं बोल पा रहे...', पीएम मोदी पर तेजस्वी का तंज
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाFri, 03 May 2024 10:45 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव को लेकर इन दिनों सियासी बयानबाजी अपने चरम पर है। एक और बीजेपी इंडी अलायंस पर हमला करने से नहीं चूक रहा, तो वहीं दूसरी ओर महागठबंधन के नेता भी पीएम मोदी से लेकर बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। पूर्व डिप्टी सीएम और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वो महंगाई का म, बेरोजगारी का ब, गरीबी का ग नहीं बोल पाते हैं।

अपनी चुनावी रैलियों में तेजस्वी पीएम मोदी के पुराने वीडियो माइक पर चला रहे हैं। उन्होने कहा मोदी जी के ही भाषण को हमने टेप पर सुनाया है। 2014 में जब मोदी जी चुनाव लड़ रहे थे, तो क्या कहते थे कि गैस सिलेंडर को प्रणाम करके निकला कीजिए। तब 400 रूपए का सिलेंडर था। लेकिन अब 1400 रूपए है, तो अब क्या करना पडे़गा। अब न तो नौकरी के बारे में बात करते हैं, और न ही बिहार के स्पेशल पैकेज के बारे में बोलते हैं। अब न महंगाई, न गरीबी और न ही बेरोजगारी पर बोलते हैं। न ही विकास की V बोल पाते हैं 

वहीं आरक्षण के मामले पर गलतबयानी को लेकर चिराग पासवान के आरोपों पर तेजस्वी ने कहा कि गुमराह तो वो लोग कर रहे हैं, हमने तो बस उनकी बात को दोहराया है। इन सब चीजों से घबराता नहीं है तेजस्वी...सच की लड़ाई लड़ता है। जांच करा लें दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा। संविधान को बचाने की लड़ाई है, हम ईमानदारी से लड़ रहे हैं। वो तो संविधान को खत्म करना चाहते हैं। 

वहीं फेक वीडियो विवाद पर तेजस्वी ने कहा कि प्रोपोगेंडा, फेक वीडियो तो बीजेपी सेल वाले करते है, आईटी सेल, कार्रवाई करें। वहीं नौकरी के मुद्दे पर तेजस्वी ने कहा कि सबसे पहले 2020 में 10 लाख नौकरी की बात जनता ने किससे मुंह से सुनी थी। किसका एजेंडा था, बीजेपी तो 19 लाख रोजगार देने की बात कर रही थी। इन लोगों के पास कोई काम है कि सिर्फ दिनभर झूठ बोलना है।