ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारउमेश कुशवाहा बने जदयू के नये प्रदेश अध्यक्ष, पार्टी बैठक में लगी मुहर

उमेश कुशवाहा बने जदयू के नये प्रदेश अध्यक्ष, पार्टी बैठक में लगी मुहर

बिहार में जदयू की राज्य परिषद की दो दिवसीय बैठक के दूसरे और अंतिम दिन उमेश कुशवाहा जदयू के प्रदेश अध्यक्ष चुने गए। इससे पहले बैठक के दौरान वशिष्ठ नारायण सिंह ने स्वास्थ कारणों से इस्तीफा दिया और उमेश...

उमेश कुशवाहा बने जदयू के नये प्रदेश अध्यक्ष, पार्टी बैठक में लगी मुहर
Sunil Abhimanyuपटना। हिन्दुस्तान ब्यूरोSun, 10 Jan 2021 03:41 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में जदयू की राज्य परिषद की दो दिवसीय बैठक के दूसरे और अंतिम दिन उमेश कुशवाहा जदयू के प्रदेश अध्यक्ष चुने गए। इससे पहले बैठक के दौरान वशिष्ठ नारायण सिंह ने स्वास्थ कारणों से इस्तीफा दिया और उमेश कुशवाहा को प्रदेश अध्यक्ष पद बनाने के लिए उनके नाम का प्रस्ताव रखा। इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित किया गया।

समाज के हर तबके के बीच जाइए और हर तबके के उत्थान के लिए काम करिए
इससे एक दिन पहले पार्टी की बैठक के पहले दिन मुख्यमंत्री नीतीश ने बिहार विधानसभा चुनाव में पराजित हुए जदयू नेताओं से चुनाव परिणाम भूल पूरी मजबूती से काम में लग जाने को कहा था। उन्होंने कहा था कि अपने क्षेत्र की सेवा उसी तरह कीजिए जैसे आप चुनाव जीतकर करते। सरकार पूरे पांच साल चलेगी। समाज के हर तबके के बीच जाइए और हर तबके के उत्थान के लिए काम करिए। आने वाले समय में हमलोग पहले से अधिक मजबूत होकर उभरेंगे।

नीतीश कुमार ने कहा कि हमलोग समाजवादी सोच के लोग हैं। गांधी, जेपी, लोहिया, अंबेडकर और कर्पूरी को मानने वाले लोग हैं। हमलोगों की राजनीति सेवा के लिए है, स्वार्थ के लिए नहीं। जनता की सेवा ही हमारा एकमात्र लक्ष्य है। हमें जिन्होंने वोट दिया और जिन्होंने नहीं दिया, सबके लिए एक समान काम करना है। उन्होंने सभी पराजित उम्मीदवारों से कहा कि चुनाव परिणाम को भूलकर पूरी मजबूती के साथ काम में लग जाइए। 

उन्होंने कहा कि आजकल लोग सोशल मीडिया का उपयोग दुष्प्रचार के लिए करते हैं। तरह-तरह का भ्रम फैलाते हैं। आप उसका उपयोग लोगों के बीच अपनी पॉजिटिव बातों को रखने में करिए। लोगों को, खासकर नई पीढ़ी को सजग करके सही रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित करिए। कहा कि जो कुछ पाने की लालसा से इस पार्टी में हैं, ये पार्टी उनलोगों के लिए नहीं है। जो नि:स्वार्थ भाव से काम करते हैं और दिन-रात मेहनत कर रहे हैं, उन्हें जरूर आगे बढ़ाया जाएगा।

epaper