DA Image
24 जनवरी, 2021|2:35|IST

अगली स्टोरी

मोतिहारी में दो अलग-अलग क्वारंटाइन सेंटर में दो प्रवासियों की संदिग्ध हालात में मौत

when the mother slapped the 5th student hanged on the noose

बिहार के मोतिहारी के अलग-अलग क्वारंटाइन सेंटर के दो प्रवासियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। चकिया थाना क्षेत्र की शीतलपुर पंचायत के हताहरपुर टोला के वार्ड नं 15 में स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे एक प्रवासी मजदूर की गुरुवार की अहले सुबह सेंटर से चार सौ मीटर की दूरी पर पेड़ से लटकी लाश मिली। वहीं, पताही थाना क्षेत्र की देवापुर पंचायत के लहसनिया राजकीय प्राथमिक उर्दू बालिका विद्यालय के क्वारंटाइन सेंटर पर एक वृद्ध प्रवासी मजदूर की संदेहास्पद स्थिति में मौत हो गई। मृतक उसी गांव का 65 वर्षीय मोहम्मद तैयब था।


जानकारी के अनुसार चकिया में शीतलपुर पंचायत के सिरसापट्टी टोला के वार्ड 11 निवासी पप्पू कुमार की लाश पेड़ से लटकी मिली। ग्रामीणों और परिजनों के विरोध के कारण शव पांच घंटे तक पेड़ से लटकता रहा। परिजन डीएम और एसपी को घटनास्थल पर बुलाने की मांग पर अड़ गए। मौत से गुस्साए परिजन हत्या किये जाने का आरोप लगा रहे थे। मौके पर पहुंचे कल्याणपुर विधायक सचिंद्र प्रसाद सिंह, एसडीओ बृजेश कुमार व डीएसपी शैलेंद्र कुमार ने परिजनों व आक्रोशित लोगों को सरकार द्वारा घोषित योजना का लाभ दिलाने व दोषी व्यक्ति पर उचित कानूनी कार्रवाई के आश्वासन पर परिजन माने। एसपी नवीन चंद्र झा ने भी घटनास्थल पर पहुंच कर जायजा लिया।


इधर, पताही में वृद्ध की मौत के मामले में पकड़ीदयाल एसडीओ कुमार रवींद्र ने बताया कि डॉक्टरों की टीम के अनुसार प्रवासी मजदूर की हार्ट अटैक से मौत हुई है। इसके बावजूद कोरोना की जांच के लिए सैंपल भेजा गया है। साथ ही मेडिकल टीम की उपस्थिति में पीपीई कीट में रखकर दफनाने की प्रक्रिया की जा रही है। जांच में कोरोना वायरस से मौत होने की पुष्टि होने पर मृतक के परिजन को मुख्यमंत्री राहत कोष से चार लाख की अनुदान राशि दी जाएगी।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Two migrants died under suspicious circumstances in two different quarantine centers in Motihari of Bihar One got hanged from tree and another elderly got died in room