ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारमैं प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष नहीं बन रहा, ललन सिंह को नीतीश मुंगेर जिला जेडीयू अध्यक्ष बना रहे हैं: सुशील मोदी

मैं प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष नहीं बन रहा, ललन सिंह को नीतीश मुंगेर जिला जेडीयू अध्यक्ष बना रहे हैं: सुशील मोदी

बिहार में बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन टूटने के बाद से दोनों दलों के बीच तल्ख़ियां चरम पर हैं। दोनों दल के नेता एक दूसरे पर नुक्ताचीनी करते रहते हैं। इन दिनों ललन सिंह और सुशील मोदी के बीच मतभेद है।

मैं प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष नहीं बन रहा, ललन सिंह को नीतीश मुंगेर जिला जेडीयू अध्यक्ष बना रहे हैं: सुशील मोदी
Sudhir Kumarलाइव हिंदुस्तान,पटनाTue, 27 Sep 2022 03:03 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

ललन सिंह जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष से मुंगेर के जिला अध्यक्ष बनने जा रहे हैं। यह काम कोई और नहीं बल्कि नीतीश कुमार के हाथों होना है। नीतीश कुमार बहुत जल्द ही ललन सिंह को राष्ट्रीय अध्यक्ष से  जिला अध्यक्ष बना देंगे। 

बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी ने ललन सिंह पर बड़ा हमला किया है।  सुशील मोदी ने ललन सिंह के उस ट्वीट का जवाब दिया है जिसमें, जदयू अध्यक्ष ने सुशील मोदी को बीजेपी का प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने का दावा किया था। 

चौटाला की रैली से लौटे तेजस्वी यादव बोले- बिहार से बीजेपी को एक भी सीट मिल जाए तो बहुत है

 

अपने ट्विटर हैंडल पर ललन सिंह है लिखा था-  
15 साल बाद सुशील मोदी को बिहार का प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा रहा है,  यह उनका राजनीति में डिमोशन है।  ललन सिंह ने यहां तक लिख दिया कि सुशील मोदी सचमुच दया के पात्र हैं । 

इसके जवाब में सुशील मोदी ने ट्विटर वॉर छेड़ दिया है।  अपने ट्विटर अकाउंट पर सुशील मोदी ने लिखा है-  

भाजपा में 17 वर्षों बाद किसी को दोबारा प्रदेश अध्यक्ष बनाने की कोई परंपरा नहीं है।  हां,  मैंने अवश्य सुना है कि नीतीश जी बहुत जल्द ललन जी को मुंह के मुंगेर का जिला अध्यक्ष बनाने जा रहे हैं।

3 हजार किलोमीटर पैदल चलेंगे पीके, गांधी की धरती से 2 अक्टूबर को शुरू होगी पदयात्रा

 

बिहार में बीजेपी और जेडीयू का गठबंधन टूटने के बाद से दोनों दलों के बीच तल्ख़ियां चरम पर हैं।  दोनों दल के नेता एक दूसरे पर अक्सर नुक्ताचीनी करते देखे जाते हैं। इन दिनों ललन सिंह और सुशील मोदी के बीच भारी नाराजगी है। सोशल मीडिया इन दोनों के लिए वाक युद्ध का मैदान बन गया है।

epaper