ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारजुड़वा बच्चों का बर्थडे मनाकर लौट रहे परिवार को ट्रक ने रौंदा, आंखों के सामने पत्नी-बेटी की मौत

जुड़वा बच्चों का बर्थडे मनाकर लौट रहे परिवार को ट्रक ने रौंदा, आंखों के सामने पत्नी-बेटी की मौत

पटना में दर्दनाक हादसा सामने आया है। जब जुड़वा बच्चों का बर्थडे मनाकर लौट रहे परिवार को ट्रक ने रौंद दिया। जिसमें मां-बेटी की मौत हो गई। वहीं बिधेश्वर प्रसाद और उनका बेटा बाल-बाल बच गया।

जुड़वा बच्चों का बर्थडे मनाकर लौट रहे परिवार को ट्रक ने रौंदा, आंखों के सामने पत्नी-बेटी की मौत
Sandeepवरीय संवाददाता,पटनाMon, 22 Jan 2024 05:58 AM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी पटना के अनीसाबाद गोलंबर के पास रविवार अपराह्न ट्रक ने बाइक सवार बच्ची और मां को रौंद डाला। हादसे में सृष्टि आर्या (6) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मां निरमा कुमारी (25) ने पीएमसीएच में दम तोड़ दिया। बाइक चला रहे पिता बिधेश्वर प्रसाद व छह वर्षीय पुत्र बाल-बाल बच गए। दुर्घटना के बाद चालक ट्रक छोड़कर फरार हो गया। गुस्साए लोगों ने सड़क पर जाम कर जमकर पत्थरबाजी की। परिवार जुड़वा बच्चों का जन्मदिन मना पटेल नगर लौट रहा था। 

गांधी मैदान यातायात थाना प्रभारी अनुप्रिया ने बताया कि पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। ट्रक जब्त कर चालक की तलाश की जा रही है। मूल रूप से नालंदा तेलहारा के घाना बिगहा निवासी बिधेश्वर प्रसाद पटेल नगर स्थित स्नेही पथ पर रहते हैं। वह बाबा चौक पर कोचिंग चलाते हैं। रविवार अपराह्न वह परसा के नत्थुपुरा स्थित ससुराल से बाइक से पत्नी और दो बच्चों के साथ वापस पटेल नगर लौट रहे थे। चार बजे जैसे ही वे अनीसाबाद गोलंबर के पास पहुंचे थे। तभी बेऊर से फुलवारी की जाने वाले रास्ते पर पीछे से आए यूपी नंबर के एक तेज रफ्तार ट्रक ने बिधेश्वर की बाइक में टक्कर मार दी। 

ट्रक की चपेट में आने पर पीछे बैठी महिला निरमा और उनकी बेटी सृष्टि आर्या सड़क पर गिर गईं। ट्रक ने मां-बेटी को कुचल दिया। सिर पर ट्रक का पहिया चढ़ने से सृष्टि की मौके पर ही मौत हो गई। जख्मी निरमा कुमारी को पुलिस पीएमसीएच ले गई। महिला ने इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया, जबकि बाइक चला रहे बिधेश्वर व आगे बैठा उनका बेटा किसी तरह बच गए।

दुर्घटना में आंखों के सामने पत्नी और बेटी की मौत की घटना ने बिधेश्वर को विचलित कर दिया। पीएमसीएच में वे दुर्घटना में बाल-बाल बचे बेटे को पूरे समय गोद में उठाए हुए थे। उनकी हालत देख परिवार वाले चिंतित थे। शनिवार को दोनों जुड़वा बच्चों का था जन्मदिन। घटना की सूचना मिलते ही बिधेश्वर प्रसाद के परिजन पीएमसीएच पहुंचे। वहां कोहराम मच गया।

चचेरे भाई अशोक प्रसाद के मुताबिक पहली पत्नी की मौत के बाद बिधेश्वर प्रसाद की शादी परसा के नत्थुपुरा निवासी निरमा कुमारी से हुई थी। उनका एक बेटा और बेटी सृष्टि आर्या थी। दोनों जुड़वा हैं। परिजनों ने बताया कि दोनों बच्चों का शनिवार को जन्मदिन था। पूरा परिवार जन्मदिन मनाने के लिए एक दिन पहले ही नत्थुपुरा गया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें