ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारसीतमाढ़ी में दर्दनाक हादसा; बागमती नदी में नहाने के दौरान 3 बच्चों की डूबने से मौत, CM ने जताया दुख

सीतमाढ़ी में दर्दनाक हादसा; बागमती नदी में नहाने के दौरान 3 बच्चों की डूबने से मौत, CM ने जताया दुख

सीतमढ़ी में बागमती नदी में नहाने के दौरान 3 बच्चों की डूबने से मौत हो गई। जबकि एक बच्चे की तलाश जारी है। इस घटना पर सीएम नीतीश ने 4-4 लाख की अनुग्रह राशि देने का आदेश दिया है।

सीतमाढ़ी में दर्दनाक हादसा; बागमती नदी में नहाने के दौरान 3 बच्चों की डूबने से मौत, CM ने जताया दुख
Sandeepसंवाददाता,सीतामढ़ीWed, 12 Jun 2024 11:12 AM
ऐप पर पढ़ें

सीतामढ़ी के सुप्पी के अख्ता गांव से पश्चिम मंगलवार दोपहर बागमती में नहा रहे तीन बच्चों समेत चार लोग डूब गए। हादसे में दो बच्चों समेत तीन की मौत हो गयी। एक लापता बच्चे की तलाश जारी है। मृतकों की पहचान अख्ता पूर्वी पंचायत के वार्ड 10 के मो. शाहनवाज नूर (11), मो. सहमद अंसारी (13) और पूर्वी चंपारण जिले के ढाका के सपही गांव के दिलशाद (21) के रूप मे हुई है। वहीं, अख्ता पूर्व पंचायत के वार्ड 10 निवासी मो. सुहैल (10) अब भी लापता है।

सूचना मिलते ही गोताखारों के साथ अख्ता गांव से बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे और तलाश शुरू की गयी। तीन शवों को करीब एक किलोमीटर दक्षिण बागमती नदी के किनारे गहरे पानी से निकाला गया। मो. सुहैल की तलाश जारी है। एसडीआरएफ की टीम भी बच्चे की तलाश में जुट गई है। सीएम नीतीश कुमार ने हादसे पर दुख जताया है और 4-4 लाख की अनुग्रह राशि देने का निर्देश दिया

थाना क्षेत्र के अख्ता गांव से पश्चिम बागमती नदी में मंगलवार के दोपहर में स्नान करने गये तीन बच्चे व एक युवक डूब गया। जिसमें तीन की मौत हो गयी। वहीं एक बच्चे की तलाश जारी है। एसडीआरएफ की टीम स्थानीय गोताखोर की मदद से करीब एक किलोमीटर की दाये में सर्च अभियान चला रही है। ग्रामीणों ने बताया कि स्नान करने के लिए जहां बच्चे गए थे उनमें से तीन का शव करीब एक किलोमीटर आगे मिला है। इसी वजह से जांच अभियान उस ओर चल रहा है। उधर, ग्रामीणों ने आशंका जतायी कि एक दूसरे को बचाने के चक्कर में ही बच्चे डूबे होंगे। गर्मी की वजह से पानी भी नदी में ज्यादा नहीं है। वहीं अक्सर लोग यहां स्नान करते ही है।

वहीं मौत के सूचना के बाद से ही परिजनों के बीच कोहराम मचा हुआ है। परिजनों का रो-रोकर बूरा हाल हो गया है। पूरे अख्ता गांव में मातमी सन्नाटा छाया हुआ है। मौके पर पूर्व विधायक अमित कुमार टुन्ना, अख्ता पूर्वी पंचायत के मुखिया गणेश पंडित, सरपंच शेख इमरान बब्लू, जदयू के प्रखंड अध्यक्ष सत्येंद्र नारायण सिंह समेत कई जनप्रतिनिधि ने मृतक के परिजनों को ढ़ाढस बंधवाया।