ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार'ऐश्वर्या से मुझे जान का खतरा': राबड़ी देवी ने काउंटर केस में लगाए और भी कई आरोप

'ऐश्वर्या से मुझे जान का खतरा': राबड़ी देवी ने काउंटर केस में लगाए और भी कई आरोप

विधायक तेजप्रताप की पत्नी ऐश्वर्या राय मामले में अब राजद प्रमुख लालू प्रसाद और पूर्व मंत्री चंद्रिका राय का परिवार खुलकर आमने-सामने आ गया है। राबड़ी देवी ने महिला थाने में बहू ऐश्वर्या के खिलाफ सनहा...

'ऐश्वर्या से मुझे जान का खतरा': राबड़ी देवी ने काउंटर केस में लगाए और भी कई आरोप
हिन्दुस्तान ब्यूरो, पटना। Tue, 17 Dec 2019 07:25 AM
ऐप पर पढ़ें

विधायक तेजप्रताप की पत्नी ऐश्वर्या राय मामले में अब राजद प्रमुख लालू प्रसाद और पूर्व मंत्री चंद्रिका राय का परिवार खुलकर आमने-सामने आ गया है। राबड़ी देवी ने महिला थाने में बहू ऐश्वर्या के खिलाफ सनहा दर्ज कराया है। सचिवालय थानाध्यक्ष ने बताया कि राबड़ी देवी द्वारा रविवार देर रात प्रार्थना पत्र दिया गया।

आवेदन में राबड़ी देवी ने कहा है कि ऐश्वर्या ने 15 दिसम्बर की शाम उन पर जानलेवा हमला किया। मुझे ऐश्वर्या से जान का खतरा है। वह रविवार की शाम आवास परिसर में बैठी हुई थी, तभी ऐश्वर्या ने उन पर जानलेवा हमला कर दिया। किसी तरह वहां से भागी। सुरक्षाकर्मियों ने बीच बचाव किया। इस पर ऐश्वर्या गाली देने लगी और झूठे केस में फंसाने की धमकी देती रही। नौ अक्टूबर को जब वह अपने कक्ष में आराम कर रही थी तभी दरवाजे पर जोर से लात मारकर ऐश्वर्या ने कूड़ा फेंक दिया। बहू बार-बार प्रताड़ित कर रही है। उधर, एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि राबड़ी देवी की ओर से मिले आवेदन की जांच की जा रही है।  

'दहेज नहीं दिये, कम से कम गाड़ी तो दे देते' 
एश्वर्या ने रविवार को महिला थाने में एफआई दर्ज कराई कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए ताना देते थे। कहते थे, बाप को बोलो दहेज नहीं दिए तो कम से कम एक गाड़ी तो देते दामाद को। ननद मीसा भी पति के कहने पर दहेज के लिए  तरह-तरह की यातनाएं देती थीं। जून से ही मुझे खाना नहीं दिया जा रहा था। पिता किसी तरह खाना पहुंचाते थे। पंद्रह दिसम्बर की शाम पांच बजे पिता के खिलाफ पटना विश्वविद्यालय में सटे अश्लील पोस्टर पर बात करने गई तो सास, ननद और पति गंदी-गंदी गालियां देने लगे और कहने लगे कि तुम्हारे बाप ने एक भी पैसा नहीं दिया है। बाप से कहो कि बिना पैसा के नहीं रखेंगे। फिर बाल पकड़कर गिरा दिया और पीटने लगे। इसके बाद सुरक्षा कर्मी को बुलाकर मुझे घसीटते हुए घर से बाहर करवा दिया।