ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारCAA का विरोध करने वाले जान लें, मोदी न डरने वाला है और न ही झुकने वाला; पूर्णिया में बोले पीएम

CAA का विरोध करने वाले जान लें, मोदी न डरने वाला है और न ही झुकने वाला; पूर्णिया में बोले पीएम

Bihar Lok Sabha Elections 2024: प्रधानमंत्री ने पूर्णिया में कहा कि जो लोग राजनीतिक फायदे के लिए सीएए का विरोध करते हैं। वह जान लें यह मोदी न डरने वाला है न ही झुकने वाला है।

CAA का विरोध करने वाले जान लें, मोदी न डरने वाला है और न ही झुकने वाला; पूर्णिया में बोले पीएम
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,पूर्णियाTue, 16 Apr 2024 08:03 PM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Lok Sabha Elections 2024: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सीमांचल संवेदनशील इलाका है। वोट बैंक की राजनीति करने वालों ने अवैध घुसपैठ का ठिकाना बनाकर सुरक्षा दांव पर लगाया। गरीबों के घरों को जलाया गया। देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वाले हर तत्व पर सरकार की नजर है। अगले पांच साल भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई होगी। चुनाव परिणाम सीमांचल की सुरक्षा तय करेगा। जो लोग राजनीतिक फायदे के लिए सीएए का विरोध करते हैं। वह जान लें यह मोदी न डरने वाला है न ही झुकने वाला है। प्रधानमंत्री ने मंगलवार को पूर्णिया में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए ये बातें कहीं।

प्रधानमंत्री ने लालू यादव पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा, आपने वह दौर भी देखा जब बिहार में जंगल राज और महाजंगल राज था। हिंसा, अराजकता, अपहरण, भ्रष्टाचार का उद्योग चलता था। नीतीश के नेतृत्व में हमने बहुत मुश्किल से उस दौर को बदला है। मगर आज एक बार फिर जंगलराज वाले लोग उस दौर की वापसी चाहते हैं। मेहनत गरीब करता है। मलाई राजद खाता है। मोदी के रहते यह मुमकिन नहीं है। इसलिए सब भ्रष्टाचारी एक हैं। मैं कहता हूं भ्रष्टाचार हटाओ, वे कहते हैं भ्रष्टाचारी बचाओ। आपको एक गारंटी देता हूं अगले पांच साल भ्रष्टाचार के खिलाफ और बड़ी कार्रवाई होगी। 

संविधान ने ही मुझ गरीब-पिछड़े को प्रधानमंत्री बनाया, मोदी का लालू और तेजस्वी यादव को करारा जवाब

कुछ लोग हैं, जिनकी आंखों को खटकता है संविधान 
पीएम मोदी ने कहा, दूसरी तरफ कुछ लोग हैं जो आपात काल में देश के संविधान को तोड़ने-मरोड़ने का काम किया। जो लोग सत्ता व सरकार को एक परिवार की मुट्ठी में रखना चाहते हैं। संविधान उनकी आंखों को हमेशा खटकता है। इसलिए अब ये लोग संवैधानिक व्यवस्था पर हुए चुनाव नतीजों पर धमकी देने लगे हैं। मगर इनके मंसूबे कामयाब न हो। दलित,  पिछड़ा, आदिवासी की ताकत बनी रहे इसके लिए एकजुट होकर साथ बने रहना है। जो लोग दन रात संविधान के नाम पर हमको गाली देते हैं। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें