ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारतीसरे चरण का रण: RJD के सामने खाता खोलने, JDU के सामने सीट बचाने की चुनौती, 3 सीटों पर कांटे की टक्कर

तीसरे चरण का रण: RJD के सामने खाता खोलने, JDU के सामने सीट बचाने की चुनौती, 3 सीटों पर कांटे की टक्कर

तीसरे चरण में बिहार की 5 सीटों पर मतदान है। इस फेज में आरजेडी के सामने खाता खोलने की चुनौती है, तो वहीं जेडीयू के सामने सीट बचाने की चुनौती। कुल मिलाकर तीन सीटों पर कांटे की टक्कर है।

तीसरे चरण का रण:  RJD के सामने खाता खोलने, JDU के सामने सीट बचाने की चुनौती, 3 सीटों पर कांटे की टक्कर
Sandeepहिन्दुस्तान ब्यूरो,पटनाMon, 29 Apr 2024 06:11 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में लोकसभा के रण में तीसरे चरण में भी प्रदेश की प्रमुख पार्टियों की साख दांव पर है। खासतौर से तीन सीट पर प्रत्याशी उतारने वाले एनडीए के प्रमुख घटक दल जदयू के लिए जहां सीट बचाने तथा जीत का अंतर बढ़ाने की चुनौती है वहीं राजद के लिए वर्ष 2019 में हारी सीटों पर खाता खोलने की। एनडीए की ओर से अररिया से फिर भाजपा जबकि खगड़िया से लोजपाआर के प्रत्याशी ताल ठोक रहे हैं। 

वहीं बात इंडिया गठबंधन की करें तो तीन सीट पर राजद ने जबकि एक-एक पर वीआईपी और माकपा के प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इन लोकसभा क्षेत्रों में मतदान 7 मई को होगा जबकि चुनाव प्रचार 5 मई की शाम तक चलेगा। सोमवार से इन क्षेत्रों में चुनाव प्रचार और जोर पकड़ने जा रहा है। फिलहाल सभी पांच सीटों पर एनडीए का कब्जा है।

तीसरे चरण के सभी पांच सीटों पर दलों की ओर से अपने-अपने प्रत्याशियों को जीत दिलाने के लिए शीर्ष नेता जनसभा व रोड शो कर रहे हैं। झंझारपुर में जदयू के रामप्रीत मंडेल व वीआईपी के सुमन महासेठ तथा बसपा के गुलाब यादव प्रमुख उम्मीदवार हैं। सुपौल में दिलेश्वर कामत (जदयू) के सामने इसबार राजद ने विधायक चन्द्रहास चौपाल को उतारा है। पिछले बार कांग्रेस प्रत्याशी रंजीत रंजन लड़ रही थीं, तब जदयू प्रत्याशी ने 2.66 लाख से अधिक मतों से जीत पाई थी। 

अररिया में भाजपा ने वर्तमान सांसद प्रदीप सिंह पर फिर भरोसा दिखाया है। इनके पक्ष में प्रधानमंत्री भी 26 को सभा करने आए थे। उनका मुकाबला राजद के शाहनवाज आलम से है। पिछली बार इसी दल के सरफराज आलम उतरे थे और 1 लाख 37 हजार वोट से हार गये थे। मधेपुरा में पिछले कई चुनाव से जदयू-राजद में कांटे का मुकाबला रहा है। 

जदयू के टिकट पर फिर पिछली बार तीन लाख से अधिक मतों से जीतने वाले दिनेशचन्द्र यादव लड़ रहे हैं। इनके सामने राजद ने नये प्रत्याशी प्रो. चंद्रदीप को उतारा है। ये पूर्व सांसद स्व. रामेन्द्र रवि के पुत्र हैं। वहीं खगड़िया में दोनों धड़ों के लड़ाके नए हैं। लोजपा आर से राजेश वर्मा जबकि माकपा से संजय कुमार मैदान में हैं।

झंझारपुर में दोनों प्रमुख गठबंधनों के अलावा गुलाब यादव भी बसपा से उतरे हैं। गुलाब पिछले लोकसभा चुनाव में झंझारपुर से राजद के प्रत्याशी थे। इस बार राजद नेतृत्व ने सीट घटक दल वीआईपी को दे दी। तीसरे चरण के तहत झंझारपुर, सुपौल, अररिया, मधेपुरा और खगड़िया में चुनाव होना है।

सीट                      जीत                         हार                                  जीत का अंतर

झंझारपुर           रामप्रीत मंडल             गुलाब यादव                          322951

सुपौल              दिलेश्वर कामत             रंजीत रंजन                           266853

अररिया           प्रदीप कुमार सिंह          सरफराज आलम                    137241

मधेपुरा            दिनेश चंद्र यादव           शरद यादव                           301527

खगड़िया          महबूब अली कैसर        मुकेश सहनी                           248576