DA Image
4 जून, 2020|7:16|IST

अगली स्टोरी

किसानों ने पटना-गया एनएच का काम रोककर किया हंगामा

धनरुआ प्रखंड के नदवां नीमा के दर्जनों ग्रामीण गुरुवार को उस वक्त हंगामा करने लगे जब पटना-गया एनएन 83 के निर्माण के लिए चिह्नित भूमि का सीमांकन कार्य जेसीबी से किया जा रहा था। ग्रामीणों ने जेसीबी पर चढ़कर कार्य करने से रोक दिया और जमकर नारेबाजी करने लगे।
प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों का आरोप था कि गांव की अधिग्रहित भूमि खतियान में व्यवसायिक व आवासीय वर्णित है, लेकिन सरकार उक्त भूमि का मुआवजा कृषि भूमि मानकर दी है। यह हमलोगों के साथ अन्याय है। उन्होंने बताया कि पूर्व में इस संबंध में प्रधानमंत्री कार्यालय समेत सूबे की सरकार को लिखित रूप से जानकारी दी जा चुकी है। जिलाधिकारी समेत भूअर्जन विभाग में भी अपनी आपत्ति दर्ज करायी गयी, लेकिन इस दिशा में अबतक समुचित कार्रवाई नहीं हो सकी है। उन्होंने बताया कि इसे लेकर लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी राजस्व व भूमि सुधार विभाग को वर्ष 2019 में ही लिखित शिकायत दर्ज करायी गयी, लेकिन अब तक किसी प्रकार की कारवाई नहीं हो पायी है। ग्रामीणों का कहना था कि जब तक हमलोगों की मांगों की पूर्ति नहीं हो जाती है, तब तक यहां सड़क निर्माण से संबंधित कोई भी कार्य नहीं होने दिया जायेगा।

निर्माण कार्य में हो रही देरी
मालूम हो कि पटना-गया एन एच-83 का निर्माण विभिन्न कारणों से वर्षों से लंबित है। इसे लेकर उच्च न्यायालय भी अपनी टिप्पणी कर चुका है। इधर, इसके निर्माण को लेकर राज्य सरकार काफी गंभीर है। भूमि स्वामियों की ओर से बीच-बीच में व्यवधान डाल इसमें रुकावट पैदा की जा रही है। नतीजतन निर्माण कार्य में देरी हो रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The farmers created a ruckus by stopping the work of Patna-Gaya NH