ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारचंडीगढ़ मेयर इलेक्शन को तेजस्वी ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 से किया कनेक्ट, जानिए क्या कहा

चंडीगढ़ मेयर इलेक्शन को तेजस्वी ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 से किया कनेक्ट, जानिए क्या कहा

तेजस्वी यादव ने कहा कि हम लोग 2020 में सरकार बना रहे थे, लेकिन चार बजे के बाद काउंटिंग रोक दी गई। जैसे चंडीगढ़ में मेयर के चुनाव में बेईमानी किया था, वैसे बिहार में 2020 में किया गया था।

चंडीगढ़ मेयर इलेक्शन को तेजस्वी ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 से किया कनेक्ट, जानिए क्या कहा
Malay Ojhaहिन्दुस्तान,नवादाSat, 24 Feb 2024 06:24 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव इन दिनों जन विश्वास यात्रा पर निकले हुए हैं। अपनी यात्रा के दौरान तेजस्वी लगातार बीजेपी और नीतीश कुमार पर हमला बोल रही हैं। शनिवार को नवादा जिले के आईटीआई मैदान में लोगों को संबोधित करते हुए तेजस्वी ने कहा कि हम लोग 2020 में सरकार बना रहे थे, लेकिन चार बजे के बाद काउंटिंग रोक दी गई। जैसे चंडीगढ़ में मेयर के चुनाव में बेईमानी किया था, वैसे बिहार में 2020 में किया गया था। हम लोगों ने स्वीकार कर लिया कि विपक्ष में बैठेंगे।

तेजस्वी ने आगे कहा कि अब हमारी सरकार नहीं है, लेकिन हमको 17 महीने आप लोगों की सेवा करने का मौका मिला। उपमुख्यमंत्री बन कर रहे। 2020 में हमने आप लोगों से वादा किया था कि अगर हम सत्ता में आएंगे और आप लोग मुख्यमंत्री बनाएंगे तो 10 लाख का नौजवानों को सरकारी नौकरी हम देंगे। जब सेवा का मौका मिला तो हमने पांच लाख नौकरी दी। एक साल का मौका और मिलता तो और भी पांच लाख नौकरी दे देता। ये बातें बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सह नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कही। वह शनिवार को जन विश्वास यात्रा के तहत नवादा के आईटीआई मैदान में लोगों को संबोधित कर रहे थे।

अपनी उपलब्धियों को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि हमने स्वास्थ्य विभाग में बहाली निकाल दी थी। खिलाड़ियों को नौकरी दी। हमने शिक्षा सेवक और तालीमी मरकज का वेतन दोगुना कर दिया। आंगनबाड़ी का वेतन बढ़ा दिया। जातीय गणना कराया। 75 प्रतिशत तक आरक्षण बढ़ाया। अब हम जनता के बीच ताकत लेने आए हैं। लड़ाई शुरू हो गई है। आप लोग बताएं, नवादा की जनता से ताकत मिलेगा कि नहीं। तब लोगों ने जिंदाबाद का नारा लगा कर समर्थन दिखाया। 

भाजपा के खिलाफ हमलावर रहे तेजस्वी
तेजस्वी यादव भाजपा के खिलाफ लगातार हमलावर रहे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने नौकरी नहीं दी। भाजपा ने कोई उद्योग-धंधा नहीं लगवाया। इसलिए भाजपा को उखाड़ फेंकने की जरूरत है। आपलोग साथ देंगे न। साथ देंगे तो मेरे साथ नारा लगाइए। इसके बाद तेजस्वी ने भाजपा भगाओ देश बचाओ का नारा लगावाया, जिसके बाद आईटीआई का मैदान गगनभेदी नारों से गूंज उठा। 

आदरणीय नीतीश कुमार जी का हम सम्मान करते हैं...
भाजपा पर लगातार हमलावर रहे तेजस्वी नीतीश कुमार के प्रति काफी नर्म दिखे। उन्होंने तमाम बातों के बीच कहा कि बार-बार देखें आदरणीय नीतीश कुमार जी कभी इधर जाते हैं तो कभी उधर जाते हैं लेकिन हम उनके प्रति सम्मान करते हैं। जब हम चाहते थे कि 10 लाख नौजवान के नौकरी दें तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बोलते थे कि कहां से पैसा आएगा, लेकिन हमने कर दिखाया। अब एक बात पता चल गई है कि बिहार को आगे बढ़ाने के लिए नीतीश कुमार का कोई विजन नहीं है। अन्यथा कहीं कोई गठबंधन बदलने का रीजन नहीं था।

तेजस्वी ने कहा कि हम पूछते हैं कि बार-बार आप गठबंधन क्यों बदल रहे हैं, आप ही बताइए। इतने साल रहने के बाद मुख्यमंत्री अब काफी थक चुके हैं। अब कोई नया काम नहीं कर पा रहे हैं, इसलिए आज हम आप लोगों को आदरणीय लालू जी का न्योता देने आए हैं। आगामी 3 मार्च को आप सब पटना रैली में आएं। लालू जी आप सभी से मिलना चाहते हैं। एक बात समझिए, हम लोगों को गरीबों को सीने से लगाना है। गरीबों को हम लोगों को मुख्य धारा में लाना है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें