ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारतेजस्वी यादव ने चिराग को दिया झटका, खगड़िया सांसद महबूब अली कैसर आरजेडी में शामिल

तेजस्वी यादव ने चिराग को दिया झटका, खगड़िया सांसद महबूब अली कैसर आरजेडी में शामिल

खगड़िया लोकसभा सीट से सांसद चौधरी महबूब अली कैसर रविवार को तेजस्वी यादव की मौजदूगी में आरजेडी ज्वाइन कर लिया है। कैसर ने पिछले दिनों पशुपति पारस गुट का साथ छोड़कर चिराग पासवान को समर्थन दिया था।

तेजस्वी यादव ने चिराग को दिया झटका, खगड़िया सांसद महबूब अली कैसर आरजेडी में शामिल
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,पटनाSun, 21 Apr 2024 10:44 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव 2024 के बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने लोजपा रामविलास के मुखिया चिराग पासवान को बड़ा झटका दिया है। खगड़िया से सांसद चौधरी महबूब अली कैसर तेजस्वी यादव के खेमे में आ ग हैं। रविवार को राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) की सदस्यता ग्रहण कर ली। आरजेडी की ओर से इसकी पुष्टि शनिवार को की गई थी। कैसर ने पिछले दिनों पशुपति पारस की रालोजपा से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद उनके चिराग पासवान के गुट वाली लोजपा रामविलास में जाने की अटकलें लगाई जा रही थीं। मगर अब वे पाला बदलकर महागठबंधन में चले गए हैं। खगड़िया सीट से चिराग की पार्टी ने राजेश वर्मा को टिकट दिया है, उनका मुकाबला सीपीएम के संजय कुमार से होगा।

खगड़िया से सांसद चौधरी महबूब अली कैसर रविवार को आधिकारिक रूप से आरजेडी की सदस्यता ग्रहण कर ली। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई।  बता दें कि कैसर के बेटे यूसुफ सलाउद्दीन पहले से आरजेडी में हैं। 

सांसद महबूब अली कैसर ने पिछले दिनों पशुपति पारस का साथ छोड़कर चिराग पासवान से हाथ मिलाया था। उन्हें उम्मीद थी कि खगड़िया सीट इस बार एनडीए में चिराग पासवान की पार्टी के खाते में आई है। कैसर को उम्मीद थी कि चिराग उन्हें इस सीट से टिकट देंगे। मगर लोजपा रामविलास ने भागलपुर के व्यापारी राजेश वर्मा को टिकट दिया, जिसके बाद कैसर ने आरजेडी में जाने का फैसला लिया है।

मंत्री नहीं बनाया तो... बीमा भारती पर बरसे नीतीश कुमार, जेडीयू छोड़ आरजेडी में जाने की वजह भी बताई

सांसद महबूब अली कैसर के आरजेडी में जाने से खगड़िया में चिराग पासवान के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। कैसर के समर्थक यहां सीपीएम प्रत्याशी संजय कुमार के समर्थन में माहौल बनाएंगे। वहीं, एनडीए के कुछ वोट वोट छिटककर महागठबंधन में जा सकते हैं। इस चुनाव में आरजेडी ने यह सीट अपनी सहयोगी सीपीएम को दी है।