DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › शिक्षक बहाली में घूसखोरी: 8 लाख दो, नौकरी लो, घूस मांगने का ऑडिओ वायरल
बिहार

शिक्षक बहाली में घूसखोरी: 8 लाख दो, नौकरी लो, घूस मांगने का ऑडिओ वायरल

लाइव हिन्दुस्तान,मधेपुराPublished By: Sudhir Kumar
Sat, 18 Sep 2021 01:02 PM
शिक्षक बहाली में घूसखोरी: 8 लाख दो, नौकरी लो, घूस मांगने का ऑडिओ वायरल

बिहार में शिक्षक बहाली में भारी घूसखोरी को उजागर करने वाला एक ऑडियो वायरल हो रहा है। यह ऑडियो मधेपुरा का बताया जा रहा है जिसमें जिले के मुरलीगंज के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी सूर्य प्रसाद यादव एक आवेदक से बहाल कर देने के लिए 8 लाख घूस की मांग कर रहे हैं। इस ऑडियो में बहाली में काम कर रहे हैं पूरे रैकेट का खुलासा किया जा रहा है। जिसमें मुरलीगंज प्रखंड के बीडीयो को भी शामिल बताया जा रहा है। यह ऑडियो सामने आने के बाद बिहार के शिक्षा विभाग में खलबली मच गई है। मधेपुरा के जिला शिक्षा पदाधिकारी ऑडियो सामने आने के बाद खुद मामले की जाकर रहे हैं और संबंधित बीईओ को शो कॉज नोटिस देकर  जवाब मांगा गया है। लाइव हिंदुस्तान इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता लेकिन सोशल मीडिया में यह ऑडियो बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है। जिसने शिक्षक बहाली की पूरी प्रक्रिया को कठघरे में खड़ा कर दिया है।

बीडीओ साहब दस लाख दिलाने के लिए हैं तैयार

ऑडियो को सुनने से साफ पता चलता है कि गुड्डू नामक एक अभ्यर्थी से पहले पंकज कुमार नाम का एक शख्स फोन करके बात करता है और परिचय करने के बाद वह मुरलीगंज के बीईओ को फोन थमा देता है। बीईओ अपनी बातचीत में गुड्डू को आश्वस्त करते हैं कि  8 लाख  की व्यवस्था कर ले तो नौकरी पक्की है। बीईओ साहब यहां तक कह जाते हैं कि मुरलीगंज के बीडीयो साहब सह नियोजन इकाई के सचिव अपने कैंडिडेट से 10 लाख दिलाने के लिए तैयार हैं लेकिन  यह सीट गुड्डू को ही दिलाई जाएगी। लेकिन पद पाने के लिए उसे कष्ट करना पड़ेगा।

DEO और  DDC साहब भी हैं हिस्सेदार

अपनी शान में कसीदे कहते हुए बीईओ साहब यहां तक कहते हैं कि उन्होंने जेल जा चुके अपने एक संबंधी को भी तब नौकरी लगवा दी जब उसे कुछ आता जाता भी नहीं है। पैसों के बल पर अपने सगे सभी सगे संबंधियों को शिक्षक बनाने का दावा कर रहे हैं। बीईओ साहब गुड्डू को यहां तक बताते हैं कि जो रुपए लिए जाएंगे उसमें 6-7 हिस्सेदार हैं। हिस्सेदारों में DEO और DDC भी शामिल हैं। इसलिए उन्हें ज्यादा बचेगा भी नहीं।

नियोजन में गड़बड़ी की खबर मीडिया में आने से बढ़ गया है रेट

सरकारी नौकरी का महत्व बताते हुए बीईओ साहब गुड्डू को कहते हैं कि पद का महत्व है। एक बार पकड़ लो तो जीवन भर निश्चिंत हो जाओगे। बीईओ साहब बताते हैं कि नियोजन में गड़बड़ी की खबरें मीडिया में आने के बाद स्थिति खराब हो गई है। इसलिए रेट  बढ़ कर 8 लाख हो गया है। नही तो 5 लाख में काम हो जाता। बीईओ साहब कहते हैं कि वे अपने अधिकारियों को वे चांदी का जूता मारते हैं और मनचाहा पोस्टिंग करवाते हैं। बीईओ साहब अभ्यर्थी को अपने हिस्से का 25-50 हज़ार छोड़ देने का आश्वासन भी दे रहे हैं।

संबंधित खबरें