ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारबिहार में जगह-जगह गर्मी का तांडव, स्कूलों में बच्चे बेहोश होकर गिरे; 50 से ज्यादा बीमार

बिहार में जगह-जगह गर्मी का तांडव, स्कूलों में बच्चे बेहोश होकर गिरे; 50 से ज्यादा बीमार

बिहार के विभिन्न जिलों के सरकारी स्कूलों में बुधवार को बच्चे भीषण गर्मी और उमस की वजह से बेहोश हो गए। शेखपुरा में कई छात्राएं बीमार हुईं तो मुंगेर में शिक्षक और बांका में रसोइया की भी तबीयत बिगड़ी।तब

बिहार में जगह-जगह गर्मी का तांडव, स्कूलों में बच्चे बेहोश होकर गिरे; 50 से ज्यादा बीमार
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,मुंगेर, बांका, शेखपुराWed, 29 May 2024 02:17 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में भीषण गर्मी और उमस के कारण स्कूलों में बच्चों की हालत खराब होती जा रही है। शेखपुरा, मुंगेर समेत अन्य जिलों के विभिन्न स्कूलों में बुधवार को 50 से ज्यादा छात्र-छात्राएं बीमार हो गए। इनमें से कई बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़े। इससे स्कूलों में अफरातफरी मच गई। कई जगहों पर शिक्षक और अन्य कर्मचारी भी हीट स्ट्रोक से बेहोश हो गए। मूर्छित बच्चों को शिक्षक एवं अन्य लोग आनन-फानन में अस्पताल ले गए और उनका इलाज कराया गया। अभिभावकों में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के खिलाफ रोष बढ़ता जा रहा है। भीषण गर्मी और लू के बावजूद स्कूलों में न तो छुट्टी की जा रही है और न ही समय में बदलाव किया जा रहा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक शेखपुरा जिले के अरियारी स्थित मनकोल गांव के हाई स्कूल में एक के बाद एक दर्जनों छात्राएं बेहोश होकर गिरने लगीं। यह नजारा देख शिक्षकों के हाथ-पैर फूल गए। ग्रामीणों को जैसे ही सूचना मिली वे दौड़े-दौड़े स्कूल पहुंचे और सभी बच्चों को अस्पताल ले जाया गया। बताया जा रहा है कि करीब 50 छात्राओं की तबीयत बिगड़ गई। ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने सड़क जाम कर केके पाठक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। फिलहाल बच्चों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। चिकित्सकों का कहना है कि उसम गर्मी और खाली पेट स्कूल आने की वजह से इनकी तबीयत बिगड़ी।

स्कूल टाइम पर नीतीश की बात भी नहीं सुन रहे अफसर, केके पाठक पर भड़के तेजस्वी यादव

मुंगेर में कई छात्र और शिक्षक बेहोश
मुंगेर जिले के धरहरा प्रखंड के तीन स्कूलों मे बुधवार को भीषण गर्मी से आधा दर्जन से अधिक छात्र बेहोश हो गए। कन्या मध्य विद्यालय अमारी के एचएम प्रभात कुमार रश्मि ने बताया कि पठन-पाठन के दौरान वर्ग आठ के सजन कुमार, आदित्य कुमार, धीरज कुमार, शिवम कुमार, अंकुश और राजवीर अत्यधिक गर्मी की वजह से अचानक बेहोश हो गए। उसके बाद उस छात्रों को पानी के छींटे मारे गए और हवा में लिटाया गया। उन्हें ओआरएस का घोल दिया गया। स्थिति सामान्य होने के बाद उन्हें घर भेज दिया गया। वहीं, मध्य विद्यालय हेमजापुर वर्ग 4 मनीष कुमार प्रार्थना के दौरान बेहोश हो गया तो हाई स्कूल हेमजापुर मे एग्जाम के दौरान एक छात्रा एवं शिक्षक धर्मेंद्र कुमार बेहोश हो गए।

भीषण गर्मी और उमस के बीच उर्दू मध्य विद्यालय सुजावलपुर में कक्षा 8 में पढ़ने वाली छात्रा एलिजा परवीन बेहोश हुई। सूचना पर विद्यालय पहुंचे परिजन छात्रा को लेकर पहुंचे सदस्य अस्पताल। चिकित्सक अनुज कुमार के अनुसार गर्मी के कारण छात्रा को डिहाईड्रेशन हुआ। छात्रा ने बताया कि कक्षा में केवल शिक्षक के पास ही पंखा लगा है, इससे बच्चों को हवा नहीं लग पाती है।

मिड डे मील पकाते समय रसोइया बेहोश होकर गिरी
बांका जिले के शंभूगंज प्रखंड क्षेत्र के मिर्जापुर पंचायत स्थित ललवामोड़ गांव के प्रोन्नत मध्य विद्यालय में बुधवार को खाना बनाने के दौरान रसोईया मुर्छित होकर जमीन पर गिर पड़ी। पीड़ित महिला रीना देवी स्कूल में बेहोश हो गई। विद्यालय के शिक्षकों ने इलाज के लिए आनन-फानन में रीना को ग्रामीण डाक्टर के निजी क्लीनिक में भर्ती कराया। इलाज कर रहे डॉक्टर ने बताया कि उमस भरी गर्मी में आग के पास खाना बनाने से महिला अचेत हो गई। 

Advertisement