अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार: आय से अधिक संपत्ति मामले में आरोपी मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार सस्पेंड

ssp vivek kumar

बिहार में मुजफ्फरपुर के एसएसपी विवेक कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। सोमवार को स्पेशल विजिलेंस ने विवेक कुमार के यहां छापेकारी कर कई करोड़ के अवैध संपत्ति का पता लगाया था। सूत्रों के अनुसार अब तक की छानबीन में आय से चार करोड़ से अधिक की संपत्ति होने की जानकारी मिल रही है। दस्तावेज, बैंक एकाउंट, गहने आदि के मूल्यांकन में लगी है।  बता दें कि वे आय से अधिक संपत्ति मामले में आरोपी हैं।  एसएसपी विवेक कुमार इसके पहले भागलपुर, सीतामढ़ी और सीवान में भी एसपी रह चुके हैं। 

जानकार बता रहे हैं कि स्पेशल विजिलेंस यूनिट के जांच अधिकारी की टीम पिछले कई हफ्तों से विवेक कुमार को खंगालने में लगी थी। उल्लेखनीय है कि विवेक कुमार 2007 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। वे हरियाणा के रहने वाले हैं।

ससुराल पक्ष के नाम पर 100 फिक्स डिपोजिट

सूत्रों के मुताबिक विवेक कुमार की पत्नी के अलावा उनके ससुराल पक्ष के लोगों के नाम पर मोटी रकम बैंकों में फिक्स डिपोजिट की गई है। सौ के करीब एफडी में करोड़ से ज्यादा की रकम है। पत्नी के नाम 21 लाख की एफडी है जो ससुराल पक्ष द्वारा दिया गया है। जांच में ससुराल पक्ष के साथ काफी लेनदेन के साक्ष्य भी मिले हैं। ससुराल पक्ष के पास जो संपत्ति मिली है वह उनकी कमाई से काफी ज्यादा है।

क्या है पूरा मामला

एसवीयू ने विवेक कुमार व उनकी पत्नी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज करने के बाद सोमवार को छापेमारी की। आमदनी से 300 प्रतिशत ज्यादा संपत्ति को एफआईआर का आधार बनाया गया है। वह भी तब जब एसएसपी के कुल खर्च को शून्य माना गया। एफआईआर में एसएसपी के ससुराल पक्ष को भी नामजद किया गया है। सोमवार को दोपहर 12 बजे के करीब तलाशी की कार्रवाई शुरू की गई।

मुजफ्फरपुर के सरकारी आवास के अलावा सहारनपुर स्थित इनके घर और मुजफ्फरनगर की ससुराल में एक साथ तलाशी ली गई। इसके लिए एसवीयू की टीम को उत्तर प्रदेश भेजा गया है। एसएसपी के साथ उनकी पत्नी, सास, ससुर व साला की सिर्फ चल संपत्ति को देखा जाए तो आय से दो सौ प्रतिशत अधिक संपत्ति का मामला बनता है।

दारोगा के आत्महत्या के बाद निशाने पर थे : पानापुर ओपी में तैनात दारोगा संजय गौड़ ने आत्महत्या कर ली थी। इस घटना के बाद एसएसपी की कार्यशाली पर सवाल उठे थे। दारोगा की पत्नी का आरोप था कि थानेदार के रूप में पोस्टिंग के लिए एसएसपी ने लाखों की रिश्वत ली थी। 

पुराने नोट मिले

तलाशी के दौरान एसएसपी के सरकारी आवास से 40 हजार के पुराने नोट मिले। इसको लेकर भी पूछताछ की जा रही है। नियम के तहत इतनी मात्र में पुराने नोट नहीं रखे जा सकते। माना जा रहा है कि इसको लेकर अलग से प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। इसके अलावा चल-अचल संपत्ति से जुड़े कई कागजात मिलने की बात है। सोना भी मिला है, हालांकि इसकी मात्र को लेकर अभी आधिकारिक तौर पर कुछ भी नहीं बताया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Ssp muzaffarpur vivek kumar suspended