ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारबिहार में होगी बालू की किल्लत, बढ़ेंगे दाम? मानसून को लेकर NGT ने खनन पर लगाई रोक; फिर कब शुरु होगा जानें

बिहार में होगी बालू की किल्लत, बढ़ेंगे दाम? मानसून को लेकर NGT ने खनन पर लगाई रोक; फिर कब शुरु होगा जानें

मानसून के दिनों में हर साल बालू के खनन पर लोक रोक लगा दी जाती है।  उसी के अनुसार इस बार भी यह आदेश जारी किया गया है।  जिला प्रशासन को  निर्देश दिया गया है कि बालू की ब्लैक मार्केटिंग नहीं हो।

बिहार में होगी बालू की किल्लत, बढ़ेंगे दाम? मानसून को लेकर NGT ने खनन पर लगाई रोक; फिर कब शुरु होगा जानें
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSat, 15 Jun 2024 12:42 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में  लोगों को बालू की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि अगले 4 महीना के लिए बालू खनन पर रोक लगा दी गई है। संभव है पीला सोने की कीमत बिहार में बढ़ जाए और ब्लैक मार्केटिंग भी होने लगे। हालांकि सरकार ने बालू माफिया पर लगाम लगाने के लिए सभी जिलों के एसपी को पत्र लिखा है।  दरअसल नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल एनजीटी के आदेश पर मानसून को देखते हुए या कदम उठाया गया है।

बिहार में आज 15 जून से अगले 4 महीने यानी 15 अक्टूबर तक बालू का खनन नहीं होगा।  राज्य के खान निदेशक ने इसका आदेश जारी करते हुए सभी जिलों के एसपी को पत्र भेज दिया है।  नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेश  पर फैसला लिया गया है कि राज्य के किसी भी बालूघाट से अगले 4 महीना तक बालू का उठाव नहीं होगा।  एनजीटी ने मानसून को देखते हुए यह निर्णय लिया है ताकि पर्यावरण का कोई नुकसान नहीं हो सके। 

बिहार में खनन माफिया का आतंक,  पुलिस टीम पर तलवार से हमला, दारोगा की अंगुलियाँ काटी; 4 गिरफ्तार

राज्य खनन निदेशक ने सभी जिलों के एसपी को जो पत्र लिखा है उसमें सख्ती से अमल करने का आदेश जारी किया गया है।  निर्देश दिया गया है कि किसी भी कीमत पर एक भी बालू घाट से खनन या उठाव नहीं होना चाहिए। इसे देखते हुए बालू विक्रेता और स्टॉकिस्ट अपना स्टॉक बढ़ाने में लग गए हैं।  एसपी को दिए गए आदेश में खनन निदेशक ने कहा है कि प्रतिबंध की अवधि में बालू की ब्लैक मार्केटिंग नहीं हो और इसकी कीमत मार्केट में नहीं बढ़ इस पर भी जिलों के पुलिस अधीक्षक कार्रवाई करें।

मानसून के दिनों में हर साल बालू के खनन पर लोक रोक लगा दी जाती है।  उसी के अनुसार इस बार भी यह आदेश जारी किया गया है।  जिला प्रशासन को  निर्देश दिया गया है कि किसी भी सूरत में बालू की ब्लैक मार्केटिंग नहीं हो। जिन लोगों का निर्माण कार्य चल रहा है, खासकर सरकारी संस्थानों में उन्हें समुचित मात्रा और उचित कीमत पर बालू उपलब्ध कराया जाए ताकि खनन माफिया आम लोगों का दोहन नहीं कर सके। 

इस बीच बिहार के बेतिया से बालू माफिया के गुर्गों द्वारा पुलिस टीम पर हमले की खबर आई है। पुलिस की जानकारी मिली थी कि ट्रैक्टर से बालू की ढुलाई हो रही है और यह का अवैध तरीके से किया जा रहा है।  पीछा करते हुए पुलिस उनके ठिकाने पर पहुंच गई और एक आरोपी को हिरासत में ले लिया।  लेकिन पुलिस को देख माफिया के गुर्गे भड़क गए और पुलिस को टीम पर हमला कर दिया।  तलवार से एक दरोगा के दो उंगली काट दी जिनका इलाज निजी अस्पताल में चल रहा है।

Advertisement