DA Image
8 अप्रैल, 2021|12:57|IST

अगली स्टोरी

बिहार सरकार में मंत्री बनने के बाद पहली बार सुपौल पहुंचे शाहनवाज हुसैन, गुरु का लिया आशीर्वाद

बिहार सरकार में मंत्री बनने के बाद पहली बार सुपौल पहुंचे शाहनवाज हुसैन ने अपने गुरु कालीचरण मिश्र के घर पहुंचकर उनसे आशीर्वाद लिया। इस दौरान शाहनवाज हुसैन ने पुराने दिनों को याद करते हुए गुरु मंत्रणा भी ली। इस मौके पर जिले के लोगों ने शाहनवाज हुसैन की जमकर तारीफ की। लोगों का कहना था  कि इतने बड़े ओहदे पर पहुंचने के बाद भी उन्होंने अपने गुरु को याद किया और उनसे मिलने के लिए आए।

शाहनवाज हुसैन का जन्म 12 दिसंबर 1968 को सुपौल में हुआ था। हुसैन ने आइटीआइ से इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है। वो पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं। वे तीन बार लोकसभा सदस्य भी (1999, 2006, 2009) रह चुके हैं। इस वर्ष वे विधान पार्षद चुने गए हैं। उन्होंने उच्च माध्यमिक शिक्षा सुपौल के विलियम्स हाईस्कूल से प्राप्त की है। उन्होंने दिल्ली और पटना से इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया। राजनीति की शुरूआत उन्होंने 1999 में 13वें लोकसभा चुनाव से की और कम उम्र में केंद्रीय राज्यमंत्री बन गए। उन्होंने मानव संसाधन विभाग, युवा मामले और खेल, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय का प्रभार संभाला है।

बता दें कि शाहनवाज हुसैन अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्र में मंत्री बने थे। उस समय उन्‍हें सबसे युवा मंत्री होने का गौरव प्राप्‍त हुआ था। शाहनवाज हुसैन वर्ष 2014 में भागलपुर लोकसभा में चुनाव हार गए थे। 2019 में उन्‍हें भाजपा ने कहीं से भी टिकट नहीं दिया लेकिन लगातार वे पार्टी के लिए कार्य करते रहे। उनकी प्रारंभिक शिक्षा विलियम्स हाईस्कूल सुपौल में हुई। कुछ दिन पूर्व वे बिहार में विधान परिषद सदस्‍य बने और फिर उद्योग मंत्री।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:shahnawaz hussain reached supaul for first time after becoming minister in bihar government meet guru kalicharan mishra and took his blessings