ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारMBBS छात्र के सुसाइड से सनसनी, हॉस्टल में रस्सी से लटकता मिल शव, कॉलेज प्रशासन पर गंभीर आरोप

MBBS छात्र के सुसाइड से सनसनी, हॉस्टल में रस्सी से लटकता मिल शव, कॉलेज प्रशासन पर गंभीर आरोप

भागलपुर के JLNMCH के ओल्ड इंटर्न हॉस्टल में एमबीबीएस फर्स्ट ईयर के छात्र ने सुसाइड कर लिया। कमरे में स्किपिंग वाली रस्सी से शव लटकता मिला। छात्रों ने कॉलेज प्रशासन पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया है

MBBS छात्र के सुसाइड से सनसनी, हॉस्टल में रस्सी से लटकता मिल शव, कॉलेज प्रशासन पर गंभीर आरोप
Sandeepहिन्दुस्तान टीम,पटना भागलपुरSun, 03 Dec 2023 06:34 AM
ऐप पर पढ़ें

भागलपुर के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जेएलएनएमसीएच) के ओल्ड इंटर्न हॉस्टल में एमबीबीएस 2022 बैच के छात्र ने शनिवार को फंदे से लटककर जान दे दी। उसकी पहचान पटना जिले के राम कृष्ण नगर थाना क्षेत्र के शेखपुरा निवासी राजीव रंजन के रूप में हुई है। घटना की जानकारी मिलने पर बरारी थाना की पुलिस मौके पर जांच के लिए पहुंची। मौके पर एसएसपी आनंद कुमार के निर्देश पर एफएसएल की टीम से घटनास्थल की जांच कराई गई है।

सूचना पर बरारी थानेदार कमाल मौके पर पहुंचे और आईसीयू के इंचार्ज डॉ. महेश और डॉ. राकेश से बातचीत की। थानेदार ने घटना की जानकारी राजीव के भाई को दी। कमरा नंबर 10 में स्किपिंग करने वाली रस्सी के सहारे राजीव रंजन का शव फंदे से लटका हुआ था। उसके रूम मेट दरभंगा निवासी ईश्वर कुमार ने बताया कि उसने 12.30 बजे कमरे में साथ खाना खाया। इसके बाद 1.00 बजे लाइब्रेरी के लिए निकल गया। लाइब्रेरी पहुंचने पर राजीव ने उसे कॉल किया और पूछा कि लाइब्रेरी पहुंच गए। जब ईश्वर ने कहा कि वह लाइब्रेरी पहुंच गया है तो राजीव ने कॉल काट दिया। 

शाम के वक्त ईश्वर जब लाइब्रेरी से हॉस्टल पहुंचा तो कमरा अंदर से बंद था। काफी आवाज देने के बाद भी कमरे से कोई आवाज नहीं आई। इसके बाद उसने सीनीयर और अन्य को कॉल कर जानकारी दी। वे लोग जब पहुंचे तो उन लोगों ने अनहोनी की आशंका पर कमरे का दरवाजा धक्का देकर तोड़ दिया। अंदर की स्थिति देख ही वे लोग स्तब्ध रह गए। राजीव का शव फंदे से लटका हुआ था।

तत्काल प्रभारी प्राचार्य और अधीक्षक को इसकी जानकारी दी गई। पिता शत्रुघ्न पासवान मजदूरी करते हैं। लेकिन राजीव पढ़ने में काफी मेधावी था। इसके कारण ही उसका चयन एमबीबीएस में हो सका था। परिजनों ने उसके लिए कई सपने संजो रखे थे। लेकिन उसकी मौत की खबर सुनते ही परिवार वाले सन्न रह गए। एमबीबीएस छात्र राजीव रंजन की मौत से मेडिकल कॉलेज के आक्रोशित विद्यार्थियों ने हॉस्टल के बाहर जमकर हंगामा और नारेबाजी की। 

इसके बाद कॉलेज प्रशासन पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। आक्रोशित काफी संख्या में विद्यार्थी मेडिकल कॉलेज में चल रहे पूर्ववर्ती छात्र सम्मेलन में पहुंच गए। वहां पहुंचने पर फिल्मी गाना सुन काफी भड़क गए। इसके बाद अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश कर गए। इसके बाद कार्यक्रम बंद करा दिया।

एसएसपी भागलपुर आनंद कुमार ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस जांच के लिए गई थी। एफएसएल ने घटना की जांच की है। पूरे मामले की जांच है। विधि व्यवस्था नियंत्रण के लिए पुलिस बल को तैनात किया गया है। वहीं मृतक छात्र राजीव के भाई ने बताया कि परिवार का सपना अधूरा रह गया। राजीव चार भाइयों में तीसरे नंबर पर था। बड़े भाई मनीष, मंझला भाई अनिस व छोटा भाई रैंचू है। सभी भाइयों में रंजन पढ़ाई में काफी होशियार था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें