DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  फल के ठेले पर छूटे बैग के अंदर क्या था, देखकर दुकानदार के भी उड़ गए होश 
बिहार

फल के ठेले पर छूटे बैग के अंदर क्या था, देखकर दुकानदार के भी उड़ गए होश 

भगवानपुर हाट। एक संवाददाताPublished By: Dinesh Rathour
Thu, 17 Jun 2021 02:49 PM
फल के ठेले पर छूटे बैग के अंदर क्या था, देखकर दुकानदार के भी उड़ गए होश 

आज के दौर में जहां एक ओर लोग रुपये-पैसों के लिए एक-दूसरे का कत्ल कर दे रहे हैं वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे भी लोग हैं जो किसी की वस्तु छूट जाने पर उसे ईमानदारी के साथ लौटा देते हैं। ऐसे ही एक ईमानदार व्यक्ति हैं जो भगवानपुर हाट प्रखंड मुख्यालय बाजार में फल का ठेला लगाते हैं। सारण जिले के मिर्जापुर गांव की रहने वाली महिला शैल देवी बुधवार को फल दुकानदार मिन्टू कुमार के पास पहुंची। उसने ठेले पर फल खरीदने के दौरान भूल से गहने के बैग छूटने की बात कही। वह जल्दबाजी में गहने की चिंता में मिंटू के फल दुकान पर वापस आई, लेकिन फल का दुकान बंद हो गया था।

अगले दिन बुधवार को महिला ने फल दुकान पर पहुंच गहने के संबंध में पूछताछ की। इसके बाद मिंटू ने ईमानदारी का परिचय देते हुए अपने घर ले जाकर महिला के गहनों से भरा बैग लौटा दिया। गहने के वापस मिलते ही महिला का चेहरा खुशी से खिल गया। उसने दुकानदार को आशीर्वाद दिया और उसकी ईमानदारी की काफी सराहना की। मिंटू के इनकार करने के बावजूद उसने पुरस्कार स्वरूप पांच सौ रुपये बच्चों को मिठाई खाने के लिए हाथों में पकड़ा दी। बाजार में मिन्टू की ईमानदारी की चर्चा है। 

मिर्जापुर की रहने वाली महिला गोपालपुर गांव के शिक्षक नागेन्द्र राम के यहां अपनी बहन के घर शादी में शामिल होने आई थी। मंगलवार को भगवानपुर बाजार में ठेले पर फल बेच रहे दुकानदार मिन्टू से फल खरीदने के दौरान उसका गहनों का बैग भूल से छूट गया था, जिसे दुकानदार ने संभाल कर रखा था। महिला को गहने लौटाते समय लोगों की भीड़ लग गई थी। मौके पर दुकानदार अनिल कुमार ओझा, कमल सोनी, शिक्षक नागेन्द्र राम व श्रीराम राम थे।

संबंधित खबरें