ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारPHED विभाग में 4.5 हजार करोड़ का घपला? मंत्री विजय सिन्हा ने दिए जांच के आदेश, सम्राट चौधरी भी सख्त

PHED विभाग में 4.5 हजार करोड़ का घपला? मंत्री विजय सिन्हा ने दिए जांच के आदेश, सम्राट चौधरी भी सख्त

मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि बड़े पैमाने पर हेरा फेरी करते हुए अपने चाहतों को ठेका दिया गया। इसमें सिंगल टेंडर भी पास हुए और डबल टेंडर में बड़े पैमाने पर सेटिंग हुई। सबकी जांच होगी।

PHED विभाग में 4.5 हजार करोड़ का घपला? मंत्री विजय सिन्हा ने दिए जांच के आदेश, सम्राट चौधरी भी सख्त
Sudhir Kumarलाइव हिंदुस्तान,पटनाTue, 20 Feb 2024 08:35 AM
ऐप पर पढ़ें

सरकार में आते ही भाजपा के नेता करप्शन और क्राइम को लेकर एक्शन में आ गए हैं। पिछली महागठबंधन सरकार में नेता प्रतिपक्ष रहे विजय सिन्हा ने मंत्री बनने के बाद पीएचडी विभाग में 4.50 हजार करोड़ के टेंडर घपले की आशंका जताई है। मंत्री ने समीक्षा कर कार्रवाई के आदेश दे दिए हैं। वहीं डिप्टी सीएम ने सम्राट चौधरी ने कहा है कि  कोई अब संगठित अपराध और करप्शन की कल्पना भी नहीं करे। उन्होंने लालू-राबड़ी राज की भी याद दिलाई।

बीजेपी के साथ सरकार बनाते ही नीतीश  कुमार ने अपना इरादा साफ कर दिया था कि महागठबंधन की सरकार के दौरान आरजेडी कोटे के मंत्रियों के विभागों के कामकाज की समीक्षा होगी।  इसमें डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव समेत 3 मंत्रियों के विभागों के समीक्षा का पत्र जारी हो गया है। विधानसभा में RJD नेताओं पर नीतीश कुमार ने पावर मिलने पर गलत तरीके से धन कमाने का आरोप लगाया था। डिप्टी सीएम सह पीएचडी विभाग के मंत्री विजय सिन्हा ने इस पर काम तेज कर दिया है। भ्रष्टाचार और क्राइम पर उनके तेवर बदल गए हैं। उन्होंने कहा है कि पेयजल एवं स्वच्छता विभाग में साढे 4 हज़ार करोड़ के टेंडर में पिछली सरकार द्वारा गड़बड़ी की गई।  बड़े पैमाने पर हेरा फेरी करते हुए अपने चाहतों को ठेका दिया गया।  इसमें सिंगल टेंडर भी पास हुए और डबल टेंडर में बड़े पैमाने पर सेटिंग हुई। महागठबंधन की पिछली सरकार में पीएचडी विभाग के मंत्री राजद विधायक ललित यादव थे।  विजय सिन्हा ने कहा है कि बहुत हेरा फेरी की गई।  सामानों की खरीद में भी सरकारी राशि का गबन किया गया।

नीतीश सरकार के दूसरे डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी के तेवर भी कम नहीं हैं।  सम्राट चौधरी ने कहा कि लालू राबड़ी की सरकार में  संगठित अपराध का बोलबाला रहा। लेकिन अब इसकी कल्पना भी मत कीजिएगा।  हम लोगों ने वह भी दिन देखा है जब एक अणे मार्ग में बैठकर वसूली का काम होता था।  लेकिन अब नीतीश कुमार के राज में यह नहीं चलेगा। 

इधर लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद के नेता बीजेपी पर ही निशाना साध रहे हैं। उनका कहना है कि सरकार विपक्ष को बदनाम करने की साजिश कर रही है।  पार्टी प्रवक्ता एज़ाज़ अहमद का कहना है कि बीजेपी के नेता लालू राबड़ी को बदनाम करो और  हिस्सा दो के फार्मूले पर काम कर रहे हैं। लेकिन जल्द ही इसका खुलासा हो जाएगा।  विजय सिन्हा और सम्राट चौधरी जो बोल रहे हैं उसमें कोई सच्चाई नहीं है।  आरजेडी के एक अन्य प्रवक्ता ऋषि मिश्रा ने कहा है कि  पिछले 18 वर्षों में जदयू के मंत्रियों ने क्या किया इसकी भी समीक्षा होनी चाहिए।  यह पता लगाया जाना चाहिए कि जदयू में कौन-कौन माफिया लोग हैं और किन नेताओं का कितना विकास हुआ।  पहले अपने बारे में साफ करें फिर राजद के नेताओं पर बात करें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें