ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहाररुपौली विधानसभा उपचुनावः दिलचस्प होगा मुकाबला; बीमा भारती समेत ये नाम चर्चा में, सांसद पप्पू यादव ने बताया सेमीफाइनल

रुपौली विधानसभा उपचुनावः दिलचस्प होगा मुकाबला; बीमा भारती समेत ये नाम चर्चा में, सांसद पप्पू यादव ने बताया सेमीफाइनल

दर्जन भर से अधिक संभावित उम्मीदवारों ने बड़ी तेजी से वोट की गोलबंदी का जातिवाद समीकरण बनाना शुरू कर दिया है जिसके कारण पूरा रुपौली अभी चुनावी बिगुल से गनगना गया है। शुक्रवार से नामांकन भी शुरू हो गया

रुपौली विधानसभा उपचुनावः दिलचस्प होगा मुकाबला; बीमा भारती समेत ये नाम चर्चा में, सांसद पप्पू यादव ने बताया सेमीफाइनल
Sudhir Kumarहिन्दुस्तान,पूर्णियाFri, 14 Jun 2024 10:48 AM
ऐप पर पढ़ें

पूर्णिया जिले के रुपौली विधानसभा सीट पर आसन्न उपचुनाव दिलचस्प होने वाला है। वहां से विधायक बीमा भारती के विधानसभा से इस्तीफा देने के बाद पूर्णिया लोकसभा से चुनाव लड़ने तक में कई लोगों ने सीट को खाली समझ कर उपचुनाव में दावेदारी के लिए प्रयास तेज कर दिए। लोगों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ती ही जा रही है इस बीच एक तरफ जहां पूर्व विधायक बीमा भारती के चुनाव लड़ने की चर्चा है तो वहीं पूर्व विधायक शंकर सिंह ने भी मैदान में उतरने का ऐलान कर दिया है। इन दोनों के मैदान में रहने का इतिहास पुराना है। इन्हीं दोनों प्रत्याशियों के कारण रुपौली हमेशा से हॉट सीट भी बन जाता है। यह सीट नीतीश कुमार और लालू-तेजस्वी के लिए नाक सवाल बन सकती है।

वोट की गोलबंदी का जातिवार समीकरण तेज

दर्जन भर से अधिक संभावित उम्मीदवारों ने बड़ी तेजी से वोट की गोलबंदी का जातिवाद समीकरण बनाना शुरू कर दिया है जिसके कारण पूरा रुपौली अभी चुनावी बिगुल से गनगना गया है। संभावित उम्मीदवारों में जो जिस जाति से आते हैं वह उसे जाति के लोगों को अपने पक्ष में मोड़ने लगे हैं। जिन्हें अपनी जाति का समीकरण कमजोर लग रहा है वे अन्य संवर्गी जाति के वोटरों को भी मिलाने का प्रयास कर रहे है।

सोशल मीडिया पर एक ट्रेंड कर रहे शंकर सिंह (एलजेपी से) पूर्व विधायक शंकर सिंह उपचुनाव को लेकर सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंड कर रहे हैं। उन्होंने सोशल मीडिया पर अपने फेसबुक अकाउंट के हवाले से रुपौली की जनता से जनादेश मांगा है।

उप-चुनाव में टूट जाएगा महागठबंधन? बीमा भारती की रुपौली विधानसभा सीट पर लड़ेगी सीपीआई

पूर्व विधायक बीमा भारती का जनसंपर्क शुरू 

विधानसभा से इस्तीफा देने के बाद पूर्णिया लोकसभा का चुनाव लड़ चुकी पूर्व विधायक बीमा भारती ने भी जनसंपर्क तेज कर दिया है। हालांकि बीमा भारती के घर से अभी यह तय नहीं हुआ है कि मैदान में खुद बीमा रहेगी या उनके प्रति अवधेश मंडल अथवा जिला पार्षद पुत्री रानी भारती। बीमा भारती के समर्थक कहते हैं कि मैदान में इन तीनों में से कोई भी हो लेकिन चुनाव का स्टेरिंग तो बीमा भारती के ही हाथ में होगा।

 किनके नाम की हो रही चर्चा 

रुपौली विधान सभा से उपचुनाव लड़ने वालों में कई नाम चर्चा हैं। आरजेडी से बीमा भारती फिर उतना चाहती तो पूर्व विधायक शंकर सिंह के अलावा कलाधर मंडल, परवेज शाहीन, मुकेश कुमार दिनकर, जदयू नेता शंभू मंडल, कांग्रेस नेता शंभू मंडल, प्रेम प्रकाश मंडल, विकास चंद्र मंडल, जय किशोर मंडल, आसिफ अनवर आदि समेत दर्जन भर लोगों के नाम की चर्चा शामिल हैं।

जदयू की रणनीति पर सबकी नजर

रुपौली विधानसभा का सीट लंबे अरसे से जदयू के झोली में रहा है। वहां जदयू के विधायक बीमा भारती हुआ करती थी। उनके विधानसभा से इस्तीफा देने के बाद एक तरफ जहां जदयू के लिए पिक एंड चूज वाली स्थिति उत्पन्न हो गई है वहीं पटना में इसके लिए जदयू जदयू में  मंथन चल रहा है।  पूर्णिया के पूर्व सांसद संतोष कुशवाहा समेत पूर्णिया जिला जदयू के अधिकांश सदस्य सूटेबल कैंडिडेट के लिए माथापच्ची कर रहे हैं। जदयू के खेमे में भी जदयू के कई नाम कैंडिडेट की लिस्ट है।

यह उपचुनाव प्रदेश के लिए सेमीफाइनल

पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र से नवनिर्वाचित सांसद पप्पू यादव ने रुपौली विधानसभा में होने वाले उपचुनाव को लेकर पूर्णिया स्थित आवास पर रुपौली और भवानीपुर के लोगों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने रुपौली विधानसभा को लेकर विचार विमर्श किया। इसके उपरांत पप्पू यादव ने कहा कि रुपौली समेत अन्य विधानसभाओं में होने वाले उपचुनाव प्रदेश के लिए सेमीफाइनल है। जनता की उम्मीद से खेलने वाले नेताओं को यह बता देना चाहिए कि अब जो काम करेगा, उसे सत्ता में जगह मिलेगी।

बताते चलें कि रुपौली विधान सभा उप चुनाव को लेकर शुक्रवार से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो रही है। अभी तक किसी भी अभ्यर्थी के द्वारा नाजिर रशीद नहीं कटाया गया है। इधर, नामांकन को लेकर प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। इस विधानसभा के लिए 10 जुलाई को चुनाव होगा। 13 जुलाई को वोटों की गिनती होगी।