DA Image
Monday, December 6, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार17 वीं बिहार विधानसभा के पहले सत्र में एआईएमआईएम विधायक के 'हिंदुस्तान' बयान पर मचा बवाल

17 वीं बिहार विधानसभा के पहले सत्र में एआईएमआईएम विधायक के 'हिंदुस्तान' बयान पर मचा बवाल

पटना, लाइव हिंदुस्तान।Sunil Abhimanyu
Mon, 23 Nov 2020 03:33 PM
17 वीं बिहार विधानसभा के पहले सत्र में एआईएमआईएम विधायक के 'हिंदुस्तान' बयान पर मचा बवाल

पांच दिवसीय 17वीं बिहार विधानसभा का पहला सत्र शुरू हो गया है। जैसा कि हंगामेदार बैठक होने का अंदेशा जताया जा रहा था कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। निर्वाचित सदस्यों के शपथ ग्रहण कार्यक्रम शुरू होने से पहले जहां कांग्रेस और वामदलों ने सदन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं सदन में एआईएमआईएम के विधायक के बयान पर बवाल मच गया।

दरअसल सदस्यों के शपथ लेने के दौरान एआईएमआईएम के विधायक अख्तरुल इमाम ने शपथ लेने के दौरान हिंदुस्तान शब्द बोलने पर अपनी आपत्ति जताई। उन्होंने शपथ के दौरान हिंदुस्तान शब्द बोलने पर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि संविधान में बोला जाता है कि हम भारत के लोग... यहां भारत की जगह उर्दू में हिंदुस्तान लिखा हुआ है। उन्होंने शपथ के दौरान भारत बोलने की बात कही। इसको लेकर कुछ देर के लिए सदन का माहौल थोड़ा तनावयुक्त हो गया। फिर मामला संभल गया।   

हालांकि विधायक अख्तरुल इमाम का  'हिंदुस्तान' बनाम 'भारत' पर बवाल मच गया है। भाजपा विधायक और सुपौल के छातापुर विधायक नीरज कुमार बबलू ने कहा कि जो लोग हिंदुस्तान शब्द नहीं बोल सकते हैं ऐसे लोगों को पाकिस्तान चले जाना चाहिए। वहीं जद यू विधायक ने भी कहा कि हिंदुस्तान बोलने में किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। ं

वहीं बाद में विधायक अख्तरुल इमाम ने अपनी सफाई में कहा कि मैंने तो शपथ ग्रहण समारोह के दौरान 'हिंदुस्तान' की जगह 'भारत' बोलने का सुझाव दिया था।

बिहार चुनाव 2020 में पांच सीटें जीती है  असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम
आपको बता दें कि बिहार के सीमांचल की जिलों में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने किशनगंज की दो, पूर्णिया की दो और अररिया की एक सीट पर जीत दर्ज की है। इससे पहले वर्ष 2019 में हुए विधानसभा उपचुनाव में किशनगंज सीट पर एआईएमआईएम ने इंट्री की थी। पहली बार यहां से एमआईएमआईएम से विधायक कमरूल होदा जीते थे। हालांकि, इस बार वह हार गए। वहीं, पार्टी ने जोरदार वापसी करते किशनगंज जिले की कोचाधामन व बहादुरगंज विधानसभा सीट पर जीत दर्ज कर एनडीए व महागठबंधन को जोरदार झटका दिया है। इसके अलावा पूर्णिया जिले की अमौर और बायसी तथा अररिया जिले की जोकीहाट सीट पर भी पार्टी के प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। किशनगंज की कोचाधामन सीट से एआईएमआईएम ने इजहार अस्फी को प्रत्याशी बनाया था। बहादुरगंज विधानसभा से अंजार नईमी एआईएमआईएम  के प्रत्याशी थे। जबकि पूर्णिया जिले की अमौर विधानसभा सीट पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक अख्तरुल ईमान खुद चुनाव लड़ रहे थे। यहां भी उन्होंने जोरदार जीत दर्ज कर पार्टी की सीमांचल में गहरी पैठ का सबूत दिया है। अररिया जिले की जोकीहाट सीट से शाहनवाज आलम ने जीत दर्ज की है। वहीं बायसी से रुकमुद्दीन ने जीत दर्ज की। 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें