ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारमहागठबंधन में रार! रूपौली से बीमा भारती को RJD ने बनाया प्रत्याशी, भाकपा बोली- नहीं निभाया गठबंधन धर्म

महागठबंधन में रार! रूपौली से बीमा भारती को RJD ने बनाया प्रत्याशी, भाकपा बोली- नहीं निभाया गठबंधन धर्म

रूपौली विधानसभा उपचुनाव के लिए आरजेडी ने बीमा भारती को प्रत्याशी बनाया है। जिसे महगठबंधन की सहयोगी सीपीआई भड़की हुई है। फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए गठबंधन धर्म नहीं निभाने का आरोप लगाया है।

महागठबंधन में रार! रूपौली से बीमा भारती को RJD ने बनाया प्रत्याशी, भाकपा बोली- नहीं निभाया गठबंधन धर्म
Sandeepलाइव हिन्दुस्तान,पटनाWed, 19 Jun 2024 11:04 PM
ऐप पर पढ़ें

रूपौली विधानसभा उपचुनाव के लिए लालू यादव की आरजेडी ने बीमा भारती को प्रत्याशी बनाया है। और बुधवार को उन्होने नामांकन भी दाखिल कर दिया है। जिसके लेकर महागठबंधन में रार पड़ती दिख रही है। बिहार में महागठबंधन की सहयोगी सीपीआई ने राजद के इस फैसले का विरोध जताया है। और इस फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। साथ ही आरजेडी पर गठबंधन धर्म नहीं निभाने का आरोप मढ़ा है।

आपको बता दें रूपौली विधानसभा उपचुनाव में राजद द्वारा बीमा भारती को प्रत्याशी घोषित करने के बाद भाकपा ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारने का फैसला लिया है। भाकपा राज्य कमेटी की बुधवार को हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। भाकपा ने राजद के एकतरफा फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है। भाकपा बिहार राज्य कार्यकारिणी की बैठक राज्य मुख्यालय में जानकी पासवान की अध्यक्षता में हुई। 

बैठक में रूपौली विधानसभा क्षेत्र के लिए हो रहे उपचुनाव पर चर्चा हुई। बैठक में राजद पर गठबंधन धर्म का पालन नहीं करने का आरोप लगाया गया। कहा गया कि गठबंधन के घटक दलों को विश्वास में लिए बिना ही राजद ने एकतरफा फैसला करते हुए चुनाव चिन्ह बांट दिया। यह न सिर्फ चिंताजनक, बल्कि दुर्भाग्यपूर्ण है। भाकपा इस घटनाक्रम से बुरी तरह आहत है। 

हालांकि, राष्ट्रीय हितों के मद्देनजर धर्मनिरपेक्ष लोकतांत्रिक प्रतिपक्ष की व्यापक एकता की बात करते हुए पार्टी ने उपचुनाव में इस सीट पर प्रत्याशी नहीं उतारने का निर्णय लिया है। भाकपा ने स्पष्ट किया है कि यह हमारी कमजोरी नहीं वरन व्यापक राष्ट्र और राज्यहित के प्रति हमारी निष्ठा और प्रतिबद्धता के हक में लिया गया राजनैतिक निर्णय है।

आपको बता दें एनडीए जेडीयू उम्मीदवार कमलाधर प्रसाद मंडल का समर्थन कर रहा है। मंडल ने पिछला विधानसभा चुनाव निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लड़ा था और हाल में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी में शामिल हुए थे। वहीं निर्दलीय के रूप में पूर्व विधायक शंकर सिंह भी मैदान में हैं। जिन्होंने हाल ही में चिराग पासवान की पार्टी छोड़ी है। इस सीट पर 21 जून नामांकन की आखिरी तारीख है और मतदान 10 जुलाई को होना है।