ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपवन सिंह और खेसारी लाल यादव की चुनावी सभा में हंगामा, भीड़ ने तोड़ी कुर्सियां

पवन सिंह और खेसारी लाल यादव की चुनावी सभा में हंगामा, भीड़ ने तोड़ी कुर्सियां

Bihar Lok Sabha Elections 2024: रोहतास में आयोजित चुनावी सभा के दौरान हंगाम मच गया। पवन सिंह और खेसारी लाल यादव को देखकर भीड़ बेकाबू हो गई। वहीं पुलिस को हालात नियंत्रण करने में पसीने छूट गए।

पवन सिंह और खेसारी लाल यादव की चुनावी सभा में हंगामा, भीड़ ने तोड़ी कुर्सियां
Malay Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,पटनाTue, 28 May 2024 06:59 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के रोहतास में अपने चहेते स्टार को आंखों के सामने देखकर भीड़ बेकाबू हो उठी। दरअसल, बिक्रमगंज में चुनावी सभा के दौरान काराकाट लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार पवन सिंह और भोजपुरी एक्टर और सिंगर खेसारी लाल पहुंचे थे। पवन सिंह व खेसारी लाल यादव के एक साथ जैसे ही मंच पर पहुंचे, लोगों ने जय पवन, तय पवन, चले पवन तो रोके कौन? आदि नारे लगाने लगे। सभा के दौरान लोगों की उत्साह का आलम था कि वे चिलचिलाती धूप में भी अपने आपको रोक नहीं पाए। मंच तक प्रत्याशी का अभिवादन करने व सेल्फी लेने के लिए बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए पहुंच गए। इस दौरान भीड़ ने मंच के नीचे लगी कुर्सियों को उठाकर इधर-उधर फेक दिया। कई कुर्सियां टूट भी गईं। वहीं भीड़ को नियंत्रण करने में पुलिस के भी पसीने छूट गए।

वहीं दूसरी ओर भीड़ को देखकर गदगद पवन सिंह ने हाथ जोड़कर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। पवन सिंह व खेसारी लाल यादव को फूलमाला व चांदी का मुकुट पहना कर स्वागत किया गया। पवन सिंह ने कहा कि चुनाव जीतने के बाद काराकाट में फिल्म सिटी बनाउंगा । सांसद मद की राशि जनता में खर्च करूंगा। काराकाट में अपना घर बनाऊंगा। जनता की सेवा करूंगा। कहा कि काराकाट की जनता का साथ रहा तो सांसद बनने से मुझे कोई नहीं रोकेगा। माई-बहिन के आशीर्वाद मिली त हम जरूर जीत जाइम। जनता जनार्दन हमार भगवान हवन। हमरा के आपन बेटा समझ के वोट दे के जिताईं जा। 

पवन सिंह और खेसारी लाल यादव की सभा का मंच थिएटर बना, चुनावी गाने पर जमकर नाचे फैन

वहीं उनके समर्थन में पहुंचे भोजपुरी फिल्म अभिनेता खेसारी लाल यादव ने खुले मंच से मतदाताओं से हाथ जोड़कर अपील किया कि एक जून को आप सब अपने एक-एक कीमती वोट देकर पवन भैया को विजयी बनाकर संसद में भेजें। ताकि आपका बेटा ,आपका भाई सदन में जाकर आपकी आवाजों को उठाएं। काराकाट लोकसभा की गूंज दिल्ली सदन तक पहुंचे।