ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारमुझे अगर खंरोच भी आई तो भाजपा जिम्मेदार होगी; सारण हिंसा के बाद भड़कीं रोहिणी आचार्या

मुझे अगर खंरोच भी आई तो भाजपा जिम्मेदार होगी; सारण हिंसा के बाद भड़कीं रोहिणी आचार्या

सारण (छपरा) में चुनावी हिंसा के बाद लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्या ने बीजेपी पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें एक भी खरोंच आई तो उसके जिम्मेदार बीजेपी के लोग होंगे।

मुझे अगर खंरोच भी आई तो भाजपा जिम्मेदार होगी; सारण हिंसा के बाद भड़कीं रोहिणी आचार्या
Jayesh Jetawatलाइव हिन्दुस्तान,पटनाTue, 28 May 2024 12:16 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के सारण में हुई चुनावी हिंसा को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) प्रत्याशी रोहिणी आचार्या ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर एक बार फिर हमला बोला है। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बेटी रोहिणी ने कहा कि छपरा में वोटिंग के दौरान उन पर डंडे चलाए गए और उन्हें गालियां दी गईं। रोहिणी ने चेतावनी दी है कि अगर उन्हें खरोंच भी आई तो उसके लिए पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर सारण से बीजेपी प्रत्याशी राजीव प्रताप रूडी और बिहार सरकार भी जिम्मेदार होगी। रोहिणी आचार्या ने सोशल मीडिया पर चार फोटो भी शेयर किए हैं, जिनपर उन्होंने आरजेडी समर्थक चंदन की गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाया है।

रोहिणी आचार्या ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत में कहा, "मेरे खिलाफ केस करो, भले ही गोली चलाओ। बीजेपी के गुंडों ने शूटआउट का ऑर्डर दिया। राजीव प्रताप रूडी बोलेते हैं कि गोलियां चलेंगी। सारण की बेटी रोहिणी आचार्या निहत्थे जा रही है, चलाओ गोली। अगर एक खरोंच भी आई तो बीजेपी के लोग जिम्मेदार होंगे।"

इससे पहले रोहिणी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर चार लोगों की तस्वीरें पोस्ट की। उन्होंने आरोप लगाए कि छपरा में वोटिंग के दौरान इन लोगों ने उपद्रव किया और आरजेडी समर्थक की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उन्होंने कहा कि निहत्थों पर गोली चलाने वाले उपद्रवियों को हर हाल में पकड़ा जाए, चंदन के कातिलों को किसी भी कीमत पर न छोड़ा जाए।

बता दें कि सारण लोकसभा सीट पर 20 मई को पांचवें चरण में मतदान हुआ था। इस दौरान आरजेडी प्रत्याशी रोहिणी आचार्या के छपरा के तेलपा स्थित एक बूथ पर जाने पर हंगामा हो गया था। बीजेपी और आरजेडी के समर्थक आपस में भिड़ गए। बूथ के बाहर जमकर नारेबाजी हुई और लाठी-डंडे एवं पत्थर भी चले। इसके अगले दिन 21 मई को सुबह छपरा के भिखारी ठाकुर चौक पर फिर से दोनों पक्ष भिड़े। इस दौरान गोली चलने से आरजेडी के एक समर्थक की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए।

सारण हिंसा की जांच रिपोर्ट एसआईटी ने चुनाव आयोग को सौंपी, रडार पर 3 बड़े अफसर

छपरा में चुनावी हिंसा के मामले में पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं समेत कुछ लोगों को गिरफ्तार किया। इसके अलावा रोहिणी आचार्या, लालू के करीबी भोला यादव समेत आरजेडी के अन्य लोगों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया। पुलिस की स्पेशल टीम इस मामले की जांच कर रही है।