DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  RJD सुप्रीमो लालू यादव ने बिहार सरकार की तुलना कोरोना से की, कहा- दोनों नजर नहीं आते हैं
बिहार

RJD सुप्रीमो लालू यादव ने बिहार सरकार की तुलना कोरोना से की, कहा- दोनों नजर नहीं आते हैं

पटना, हिन्दुस्तान टीमPublished By: Malay Ojha
Thu, 13 May 2021 03:13 PM
RJD सुप्रीमो लालू यादव ने बिहार सरकार की तुलना कोरोना से की, कहा- दोनों नजर नहीं आते हैं

आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने गुरुवार को बिना नाम लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला है। लालू ने ट्वीट कर कहा है कि कोरोना और बिहार सरकार में कुछ समानताएं हैं, दोनों जन-जीवन के लिए खतरनाक हैं और दोनों अदृश्य (नजर नहीं आते) हैं।

इससे पहले बक्सर के चौसा में नदी में मिली लाशों को लेकर भी लालू ने नीतीश सरकार पर तंज कसा। अपने ट्वीट में लालू ने कहा कि जीते जी दवा, ऑक्सीजन, बेड और इलाज नहीं दिया। मरने के बाद लकड़ी, दो गज कफ़न और ज़मीन भी नसीब नहीं हुआ। दुर्गति के लिए शवों को गंगा में फेंक दिया। कुत्ते लाशों को नोच रहे है। हिंदुओं को दफ़नाया जा रहा है। कहां ले जा रहे है देश और इंसानियत को?

कुछ दिन पहले ही लालू यादव ने बिहार की स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर पटना हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणियों का हवाला देते हुए राज्य सरकार पर निशाना साधा है। लालू ने ट्वीट कर कहा था कि पटना हाईकोर्ट ने बिहार की पूरी स्वास्थ्य सेवा को सेना को सौंप देने की बात कही है। लालू प्रसाद ने आरोप लगाया है कि महामारी में भी राज्य सरकार गंभीर और मानवीय नहीं है। सवाल किया है कि जंगलराज चिल्लाने वाले अब कहां दुबके हैं। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि कोई तो बिहार सरकार को नैतिकता, जवाबदेही, अंतरात्मा, कर्तव्यबोध सिखा दे।

महामारी में नहीं दिख रही सरकार : राबड़ी
वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने ट्वीट कर कहा कि उच्च न्यायालय ने भी राज्य की नीतीश सरकार को टोटल फेल्योर बताया है। कहा कि इस महामारी में बिहार सरकार कहीं नहीं दिख रही। आम आदमी इधर-उधर दौड़ कर मदद की गुहार लगा रहा है। चाहे ऑक्सीजन हो, दवाई हो, अस्पताल में भर्ती और यहां तक कि दाह-संस्कार करना हो। राबड़ी ने कहा कि इतनी निष्क्रिय सरकार इतिहास में नहीं देखी होगी।

संबंधित खबरें