RJD members suspension withdrawn in Bihar Legislative Council - बिहार विधान परिषद में राजद सदस्यों का निलंबन वापस लिया गया DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार विधान परिषद में राजद सदस्यों का निलंबन वापस लिया गया

Bihar Legislative Council

बिहार विधान परिषद में हंगामे के कारण बुधवार को निलंबित किए गए राजद के पांच सदस्यों का निलंबन विधान परिषद के कार्यकारी सभापति हारुण रशीद ने गुरुवार को सदन की सहमति से वापस ले लिया। इसका प्रस्ताव वामदल के केदर पांडेय ने बुधवार की घटना पर दुख जताते हुए रखा।

सदन की कार्यवाही शुरू होते ही परिषद सदस्य केदार पांडेय ने बुधवार की घटना के लिए दोनों पक्षों की ओर खेद प्रकट किया। साथ ही आसन से निलंबित राजद सदस्य राधाचरण साह, सुबोध कुमार, कमरे आलम, खुर्शीद मोहम्मद मोहसीन और दिलीप राय का निलंबन वापस लेने का आग्रह किया। इस पर आसन से सदन की राय ली गई और सहमति बनने पर पांचों सदस्यों का निलंबन वापस ले लिया गया। कार्यकारी सभापति ने श्री पांडेय को उन पांचों सदस्यों को सदन में लाने की जिम्मेवारी सौंपी।

इसी बीच रामचन्द्र पूर्वे ने सीतामढ़ी की घटना को लेकर चर्चा शुरू कर दी। सत्ता पक्ष की ओर से भी घटना को लेकर हुई कार्रवाई की चर्चा शुरू कर दी गई। इस पर संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार ने आसन से आग्रह किया कि किसी भी सदस्य को बोलने का मौका नियम से तहत ही दिया जाना चाहिए। उसके बाद दोनों ओर से शोर-शराब को देख कार्यकारी सभापति ने सदन को भेजनावकाश तक के लिए स्थगित कर दिया।

अपराध में कमी की चर्चा की
परिषद की कार्यवाही गुरुवार को ज्योंही शुरू हुई भाजपा के संजय मयूख ने एक पत्रिका के हवाले से बिहार में अपराध में कमी की चर्चा शुरू की। उन्होंने कहा कि वर्तमान में राज्य में अपराध में भारी कमी आई है। बिहार इस मामले में 20वें से दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को बधाई दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:RJD members suspension withdrawn in Bihar Legislative Council