ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबिहार में रेलवे का इंजीनियर रिश्वत लेते गिरफ्तार, सीबीआई ने रंगे हाथों दबोचा

बिहार में रेलवे का इंजीनियर रिश्वत लेते गिरफ्तार, सीबीआई ने रंगे हाथों दबोचा

रेलवे कारखाना में एक मशीन इंस्टॉल करनी थी। एक कंपनी द्वारा भेजी गई मशीन की जांच के बाद प्रमाण पत्र पर हस्ताक्षर करने में इंजीनियर आनाकानी कर रहा था। इसकी एवज में उसने रिश्वत मांगी।

बिहार में रेलवे का इंजीनियर रिश्वत लेते गिरफ्तार, सीबीआई ने रंगे हाथों दबोचा
Jayesh Jetawatहिन्दुस्तान,समस्तीपुर हाजीपुरSat, 09 Dec 2023 10:08 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के समस्तीपुर में सीबीआई ने रेलवे के एक घूसखोर इंजीनियर को गिरफ्तार किया है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने समस्तीपुर रेल मंडल मुख्यालय स्थित यांत्रिक कारखाना में शनिवार दोपहर छापेमारी कर रिश्वत लेने के आरोप में सीनियर सेक्शन इंजीनियर मंटू कुमार को गिरफ्तार किया। कारखाना गेट के पास ही सीबीआई की सात सदस्यीय टीम ने सीनियर सेक्शन इंजीनियर को रंगे हाथों दबोच लिया। मंटू कारखाना में मिल राइट सेक्शन में कार्यरत हैं। पूछताछ के बाद सीबीआई उसे अपने साथ ले गई। हालांकि, घूस की राशि का पता नहीं चल सका।

जबतक कारखाने के अन्य अधिकारियों एवं कर्मचारियों को मामले की जानकारी मिलती, सीबीआई इंजीनियर को लेकर मुख्यालय से निकल गई। पूर्व मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है। रेलवे सूत्र के मुताबिक, शनिवार दोपहर सीबीआई की सात सदस्यीय टीम दो वाहनों से कारखाना गेट के पास पहुंची। उसके बाद टीम कारखाना में गई और सीनियर सेक्शन इंजीनियर मंटू कुमार को पकड़ लिया।   उस समय सीनियर सेक्शन इंजीनियर बाइक लेकर कारखाना से निकलने की तैयारी में था। रिश्वत की राशि इंजीनियर की बाइक की डिक्की से बरामद की गई।  

साइन करने की एवज में मांगी थी रिश्वत
रेल मंडल मुख्यालय स्थित यांत्रिक कारखाना में शनिवार दोपहर सीबीआई की टीम की छापेमारी के बाद हड़कंप मच गया। बताया गया कि पूछताछ में पहले तो इंजीनियर ने आनाकानी की, लेकिन बाइक की डिक्की की तलाशी लेने पर उसमें थैले के अंदर नोट मिले। इसके बाद टीम ने सीनियर सेक्शन इंजीनियर का हाथ पानी से धुलवाया तो हाथ का रंग गया। फिर टीम इंजीनियर को अपने साथ ले गई।

सूत्रों ने बताया कि कारखाना में एक मशीन इंस्टॉल करनी थी। एक कंपनी द्वारा भेजी गई मशीन की जांच के बाद प्रमाण पत्र पर हस्ताक्षर करने में इंजीनियर आनाकानी कर रहा था। कहा जा रहा है कि इंजीनियर हस्ताक्षर करने की एवज में कंपनी से रुपये मांग रहा था। इसकी शिकायत कंपनी के कर्मचारी ने सीबीआई से की थी। इसके बाद यह कार्रवाई की गई। सीबीआई की छापेमारी एवं कारखाना से सीनियर सेक्शन इंजीनियर की गिरफ्तारी की सूचना मिलते ही रेल महकमे में हड़कंप मच गया।

पूर्व मध्य रेलवे के सीपीआरओ वीरेंद्र कुमार ने कहा कि समस्तीपुर रेलमंडल मुख्यालय स्थित यांत्रिक कारखाना में सीबीआई की छापेमारी और रिश्वत लेने के आरोप में सीनियर सेक्शन इंजीनियर के गिरफ्तार किए जाने की जानकारी मिली है। इस मामले में विस्तृत जानकारी जुटाई जा रही है। कार्रवाई की जाएगी।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें