ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारगोपाल यादुका मर्डर में बीमा भारती के बेटे की तलाश में पूर्णिया से पटना तक छापे, हत्या की सुपारी देने का आरोप

गोपाल यादुका मर्डर में बीमा भारती के बेटे की तलाश में पूर्णिया से पटना तक छापे, हत्या की सुपारी देने का आरोप

पूर्णिया के गोपाल यादुका हत्याकांड में आरजेडी नेता बीमा भारती के बेटे की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पुलिस उसकी तलाश में पूर्णिया से पटना तक छापेमारी कर रही है। वहीं बीमा ने इसे प्रतिशोधपूर्ण कार्रवाई बताया

गोपाल यादुका मर्डर में बीमा भारती के बेटे की तलाश में पूर्णिया से पटना तक छापे, हत्या की सुपारी देने का आरोप
police raid on bima bharti house
Sandeepआदित्य नाथ झा मुकेश मिश्रा,पूर्णिया पटनाTue, 18 Jun 2024 06:41 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्णिया के गोपाल यादुका हत्याकांड मामले पूर्व मंत्री और आरजेडी नेता बीमा भारती के बेटे राजा कुमार का नाम आने के बाद पुलिस टीम ने उनके पटना स्थित आवास और रूपौली में पैतृक आवास समेत कई जगहों पर छापेमारी की है। आपको बता दें 2 जून को पूर्णिया के भवानीपुर बाजार में दुकान खोलते ही गोपाल यादुका नाम के कारोबारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।  इस घटना से दुकानदारों में काफी आक्रोश है। आरजेडी सहित कई राजनीतिक दलों ने बिगड़ती कानून-व्यवस्था की स्थिति पर सरकार की आलोचना की है। बीमा भारती ने आरोप लगाया कि बिहार सरकार उन्हें और उनके परिवार को परेशान कर रही है।

वहीं बीमा भारती राजद के टिकट से रुपौली विधानसभा उपचुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। आज उनके बेटे राजा कुमार को पकड़ने के लिए पुलिस बलों ने छापेमारी की। बीमा भारती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मैं आपको बता दूं कि मैं तब तक लड़ती रहूंगी जब तक मैं जीवित हूं और कोई भी ताकत मुझे डरा नहीं सकती।

जानकारी के मुताबिक जैसे ही बीमा भारती पटना स्थित अपने आवास पर पहुंचीं, पूर्णिया से एक पुलिस टीम भी उनके बेटे का बयान दर्ज करने के लिए आवास में दाखिल हुई। हालांकि, पुलिस द्वारा बिना बताए आवास में प्रवेश करने पर भारती नाराज हो गईं और उन्होंने बिना महिला पुलिस अधिकारी के सरकारी आवास में प्रवेश करने का विरोध किया। दरअसल पुलिस उनके बेटे की तलाश कर रही थी,और उसे थाने भेजने की बात कहकर लौट आई। 

यह भी पढ़िए- लालू का आशीर्वाद मिल गया; बीमा भारती का दावा- रूपौली में हमें ही मिलेगा RJD का सिंबल

पुलिस टीम में शामिल एक सब इंस्पेक्टर ने बताया कि पुलिस किसी भी तरह की गिरफ्तारी के लिए नहीं आई है। वे सिर्फ बयान दर्ज कराने आये हैं. जवाब में बीमा भारती ने कहा कि वह भवानीपुर थाने जाएंगे जहां मामला दर्ज कराया गया है। वहीं गायब चल रहे बीमा भारती का बेटा लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान तेजस्वी यादव के साथ मंच साझा करते देखा गया था।

इस बीच बीमा भारती ने आरोप लगाया कि उनके बेटे को इस मामले में फंसाया जा रहा है. उन्होंने कहा, मेरे पति अवधेश मंडल 10 दिन पहले जेल से छूटे हैं और अब मेरे बेटे को फंसाया जा रहा है। मेरे जेडीयू छोड़ने के बाद सरकार प्रतिशोधपूर्ण कार्रवाई कर रही है। वहीं छापेमारी को अंजाम देने वाली पुलिस टीम ने बताया कि पूर्व विधायक का बेटा आवास पर नहीं था। जब तक हम उसे पकड़ नहीं लेते तब तक हम छापेमारी करते रहेंगे क्योंकि जांच के दौरान उसका नाम एक प्रमुख साजिशकर्ता के रूप में सामने आया है जिसने कारोबारी की हत्या करने के लिए सुपारी लेकर शूटरों का इंतजाम किया था।  

कारोबारी की हत्या की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों ने कहा, शूटर सहित गिरफ्तार किए गए चार लोगों ने पुलिस को बताया कि बीमा भारती के बेटे ने व्यवसायी की हत्या के लिए उन्हें 5 लाख रुपये की पेशकश की थी। लेकिन ज्यादा लंबे वक्त तक वो पुलिस से नहीं बच सकता है। 

यह भी पढ़िए- बिहार की 173 विधानसभा सीटों पर एनडीए ने INDIA को पछाड़ा, 14 लोकसभा में RJD, कांग्रेस, लेफ्ट जीरो

इस मामले में  पुलिस ने ब्रजेश यादव, विकाश यादव, संजय और विशाल राय को गिरफ्तार कर लिया है।  संजय लैंड ब्रोकर है, जबकि विशाल रॉय शूटर है। जांच टीम का नेतृत्व कर रहे उप मंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) संदीप गोल्डी ने कहा हमने मामले को लगभग सुलझा लिया है और जल्द ही व्यवसायी की हत्या में शामिल सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आपको बता दें बीमा भारती ने आरजेडी के टिकट पर पूर्णिया से लोकसभा चुनाव लड़ा था। और हार का सामना करना पड़ा था। निर्दलीय प्रत्याशी पप्पू यादव की जीत हुई थी।