DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  कैमूर और सासाराम में भाजपा सांसद मनोज तिवारी को भीड़ ने दिखाया काला झंडा VIDEO
बिहार

कैमूर और सासाराम में भाजपा सांसद मनोज तिवारी को भीड़ ने दिखाया काला झंडा VIDEO

भभुआ सासाराम। हिटीPublished By: Shivendra
Sun, 30 Sep 2018 09:12 PM
कैमूर और सासाराम में भाजपा सांसद मनोज तिवारी को भीड़ ने दिखाया काला झंडा VIDEO

दिल्ली सांसद व भाजपा नेता मनोज तिवारी को रविवार को कैमूर और सासाराम में विरोध झेलना पड़ा। सदन में आरक्षण बिल का समर्थन किए जाने के खिलाफ युवक उनका विरोध कर रहे थे।  कैमूर के नगरपालिका मैदान में रविवार को भाजयुमो की ओर से आयोजित युवा शंखनाद सम्मेलन में वह भाग लेने आए थे।
कैमूर में नगर पालिका गेट के सामने सड़क पर उनके काफिले को युवाओं की  भीड़ ने रोक दिया और उनके खिलाफ नारेबाजी करने उन्हें काला झंडा दिखाते हुए अपने गुस्से का इजहार किया। विरोध के दौरान भीड़ की ओर से एक पत्थर भी उछाला गया, जो डीएसपी के पास आकर गिरा।

मनोज तिवारी कैमूर जिले के ही मोहनियां प्रखंड के अतरवलिया गांव के रहने वाले हैं और  नगपालिका मैदान में भाजयुमो की ओर से आयोजित युवा शंखनाद सम्मेलन में भाग लेने के लिए वहआए थे। मौके पर मौजूद पुलिस अफसरों व जवानों ने विरोधियों को किनारा कर मनोज तिवारी व उनके साथ चल रहे अन्य वाहनों को नगरपालिका मैदान में जाने के लिए रास्ता दिलवाया। इस दौरान पुलिस व भीड़ के बीच धक्का-मुक्की भी हुई। मंच पर फिल्म अभिनेता के पहुंचने पर भी जब विरोध कम नहीं हुआ, तब कार्यक्रम स्थल पर खड़े लोगों को पुलिस पीछे करने लगी। पुलिस एक टुकड़ी नगरपालिका गेट पर ही पहरेदारी करने लगी, ताकि कोई अंदर प्रवेश न कर सके

 

सासराम में युवा संकल्प सम्मेलन मे भाग लेने आए सांसद मनोज तिवारी का युवाओं की टोली द्वारा जबर्दस्त विरोध किया गया। विरोध प्रदर्शन के दौरान युवाओं की टोली ने काला झंड़ा दिखाया। विरोध प्रदर्शन इतना बढ़ गया कि पुलिस को लाठी भांजनी पड़ी। इससे कार्यक्रम स्थल पर भगदड़ मच गई। इस दौरान कई कार्यकर्ता व दर्शक चोटिल हो गए। युवाओं द्वारा मनोज तिवारी का विरोध करने की तैयारी पहले से ही थी। सुबह से ही शहर के युवा योजना बनाते रहे। जैसे ही मनोज तिवारी सदर अस्पताल गेट के पास पहुंचे युवाओं की टोली ने उनका विरोध शुरु कर दिया।

उनके वाहन पर पानी की बोतलें फेंकने लगे। हाथों में काला झंडा लिए कार्यकर्ताओं ने मनोज तिवारी के वाहन को चारों ओर से घेर लिया। विरोध देख पुलिस ने कार्यकर्ताओं को खदेड़ा। मशक्ककत के बाद मनोज तिवारी कार्यक्रमस्थल तक पहुंच सके। मंच पर मनोज तिवारी के पहुंचते ही फिर से कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन करने लगे। कार्यकर्ताओं ने मनोज तिवारी वापस जाओ के नारा लगा रहे थे। पूरा कार्यक्रम हंगामे की भेंट चढ़ गया। बाद में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

संबंधित खबरें