Monday, January 17, 2022
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारतेजस्वी के मछली मारने पर सियासत गर्म, ललन सिंह से लेकर मुकेश सहनी तक का हमला

तेजस्वी के मछली मारने पर सियासत गर्म, ललन सिंह से लेकर मुकेश सहनी तक का हमला

पटना लाइव हिन्दुस्तानYogesh Yadav
Wed, 20 Oct 2021 06:57 PM
तेजस्वी के मछली मारने पर सियासत गर्म, ललन सिंह से लेकर मुकेश सहनी तक का हमला

इस खबर को सुनें

बिहार की दो सीटों पर होने वाला उपचुनाव मज़ेदार होता जा रहा है। जमीन के साथ ही एक लड़ाई ट्वीटर पर भी लड़ी जा रही है। तेजस्वी यादव तारापुर में कैंप कर मतदाताओं से राजद उम्मीदवार को जीत दिलाने के लिए तूफ़ानी प्रचार कर रहे हैं। इसी दौरान उनकी एक तस्वीर वायरल हुई। इसमे वो मछली मारते दिखे। तेजस्वी की इस अदा पर चुटकी लेते हुए जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने हमला बोला है। ललन ने चुटीले अन्दाज़ में हमला बोलते हुए कहा कि जब चुनाव में आत्मविश्वास कमजोर पड़ जाता है तो मछली नही मारेंगे तो क्या करेंगे लेकिन ये भी तो देखिए मछली भी मिली तो पोठिया मछली। 

इसी के बाद तेजस्वी यादव ने भी पलटवार करते हुए जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह पर सामंती सोच का आरोप लगाकर हमला बोला। तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर ललन सिंह पर निशाना साधते हुए कहा की मत्स्यजीवी समाज को कम आत्मविश्वास वाला और मछली पकड़ने को हेय काम बताने वाले नीतीश जी के ‘राष्ट्रीय अध्यक्ष’ को पूरे मल्लाह समाज से माफी मांगनी चाहिए। ये जदयू-बीजेपी वाले अपनी सामंती सोच को बस किसी तरह दबा, छुपा कर बैठे हैं। रह-रहकर वंचितों के प्रति घृणा और जहर इनके मुंह से निकलता ही रहता है।

तेजस्वी यादव के हमले पर ललन सिंह ने भी पलटवार किया और कहा की पढ़ाई में कक्षा छोड़कर 9वीं फेल रहे वैसे ही जनता से मुंह चुराकर मछली पकड़ने का नाटक राजनीतिक अविश्वास सिद्ध होगा। 2020 में सरेआम मत्स्यजीवी समाज के नेता व वर्तमान केबिनेट मंत्री मुकेश सहनी की बेइज्जती सबको याद है, ढ़ोंग मत करिए प्रवासी बाबू, लोग जागरूक हैं! लोगों की भावनाओं से खेलना, वोट लेना और सामंती प्रवृति से राज करने का संस्कार आपको विरासत में मिला है। ललन ने लिखा है कि राजद के वरिष्ठ नेताओं व ग़रीब-गुरबों से मिलते हुए एक कुर्सी पर बैठ दूसरे कुर्सी पर पैर रखने वाले आपके पिता जी से बड़ा सामंती बिहार में कोई नहीं, जनता को पोठिया समझना बंद कीजिए।

जदयू प्रवक्ता अरविंद निषाद ने भी तेजस्वी यादव पर पलटवार करते हुए हमला बोला है। अरविंद निषाद ने कहा कि मत्स्यजीवी समाज को कम आत्मविश्वास वाला समझकर स्व: विद्यासागर निषाद जी को लालू जी ने पशु एवं मत्स्य मंत्री बनाकर उन्हें चार घोटाला में जेल भेजवाने का इंतजाम कर दिया गया था। मल्लाह समाज को सामाजिक एवं राजनीतिक रूप से राजद ने हमेशा से तिरस्कार का भाव रख दोयम दर्जे का व्यवहार किया है।

जूता उतारकर तालाब में उतरिए : सहनी

तेजस्वी यादव के मछली पकड़ने की घटना पर पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री मुकेश सहनी ने ट्वीट कर पटलवार किया है। श्री सहनी ने कहा है कि मछली पकड़ने का इतना ही शौक है तो चमकदार कुर्ता-पैजामा, ब्रांडेड जूता उतारकर मेरे साथ तालाब में उतरिये, तब समझ में आएगा कि एक मछुआरे को मछली पकड़ने में कितना मेहनत लगता है। खैर, मछुआरे समाज को 2020 में आपके द्वारा पीठ में भोंका खंचर अच्छे से याद है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें