DA Image
18 फरवरी, 2021|12:33|IST

अगली स्टोरी

सोशल मीडिया पर बढ़ेगी पुलिस की सक्रियता, भ्रामक खबरों का होगा खंडन

bihar police

सोशल मीडिया पर पुलिस की सक्रियता बढ़ेगी। सूचनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए इस प्लेटफॉर्म का गंभीरता के साथ इस्तेमाल किया जायेगा। इसे लेकर पुलिस मुख्यालय से एडीजी (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार ने भागलपुर सहित सभी जिलों के एसएसपी और एसपी को पत्र लिखकर निर्देश दिये हैं। उन्होंने निर्देश दिया है कि आमलोगों के बीच सूचनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाए। इसके लिए फेसबुक एकाउंट और ट्विटर हैंडल खोलने का उन्होंने निर्देश दिया है।

पुलिस की जिले में किसी प्रकार की उपलब्धि हो, किसी मामले का खुलासा या कुख्यात की गिरफ्तारी हो तो वह भी सोशल मीडिया पर अपलोड करने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा आपराधिक घटनाओं खासकर साइबर फ्रॉड से बचने के लिए क्या उपाय हो सकते हैं और इसे लेकर लोगों को जागरूक करने का कार्य भी सोशल मीडिया के माध्यम से किया जायेगा। सोशल मीडिया से जल्दी लोग जुड़ जाते हैं और सूचना त्वरित रूप से काफी संख्या में लोगों तक पहुंच जाती है, यही वजह है कि इसे गंभीरता से लिया गया है। यह भी बताया गया है कि ऑफिशियल एकाउंट भागलपुर पुलिस के नाम से भी बनाया जायेगा।

भ्रामक खबरों का भी करना है खंडन
अपनी उपलब्धियों और जनोपयोगी योजनाओं की जानकारी शेयर करने के साथ ही भ्रामक खबरों का खंडन करने के लिए भी पुलिस सोशल मीडिया का इस्तेमाल करेगी। पुलिस मुख्यालय से आये निर्देश में कहा गया है कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अगर कोई व्यक्ति कोई भ्रामक खबर पोस्ट करता है या अफवाह फैलाने की कोशिश करता है तो उसी प्लेटफॉर्म पर पुलिस उस खबर का खंडन करेगी और आगे उस भ्रामक पोस्ट करने वाले के खिलाफ कार्रवाई भी करेगी। सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाओं की वजह से कई बार माहौल बिगड़ने की भी घटनाएं हो चुकी हैं।

सोशल मीडिया पर भागलपुर पुलिस की मौजूदगी तो है पर उसे और सक्रिय करने की आवश्यक्ता है। लगातार अपडेट होता रहे और जरूरी जानकारी अपलोड हो, इसे लेकर निर्देश दिया जायेगा। आमलोगों तक जानकारी के प्रचार-प्रसार के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म अच्छा माध्यम है।- निताशा गुड़िया, एसएसपी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:police activism will increase on social media and misleading news will be denied by department