DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के हुनर हाट में बिहारी लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया
बिहार

नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के हुनर हाट में बिहारी लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया

पटना हिन्दुस्तान टीमPublished By: Malay
Wed, 19 Feb 2020 07:16 PM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से नई दिल्ली के इंडिया गेट लॉन में आयोजित ‘हुनर हाट’ में बिहार व्यंजन लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया।
1 / 2प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से नई दिल्ली के इंडिया गेट लॉन में आयोजित ‘हुनर हाट’ में बिहार व्यंजन लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से नई दिल्ली के इंडिया गेट लॉन में आयोजित ‘हुनर हाट’ में बिहार व्यंजन लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया।
2 / 2प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से नई दिल्ली के इंडिया गेट लॉन में आयोजित ‘हुनर हाट’ में बिहार व्यंजन लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की ओर से नई दिल्ली के इंडिया गेट लॉन में आयोजित ‘हुनर हाट’ में बिहार व्यंजन लिट्टी-चोखा का स्वाद लिया।  उन्होंने खटिया पर बैठकर लिट्टी-चोखा खाया। फिर दो कुल्हड़ चाय भी ली और एक चाय अपने साथ रहे अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तारअब्बास नकवी को दी। प्रधानमंत्री ने इसके लिए भुगतान भी किया। श्री मोदी ने अपने लिट्टी-चोखा खाने वाली तस्वीर को ट्वीट भी किया। जिसमें उन्होंने इसकी जानकारी भी शेयर की। वहीं, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने इस ट्वीट को रिट्वीट भी किया। 

पीएम मोदी बुधवार को हुनर हाट को देखने पहुंचे थे। उन्होंने हुनर हाट में देशभर से भाग ले रहे उस्ताद शिल्पकारों, दस्तकारों तथा व्यंजन विशेषज्ञों के स्टॉल देखे। इंडिया गेट लॉन में 250 से अधिक ऐसे स्टॉल लगाए गए हैं। हुनर हाट में भाग ले रहे शिल्पकारों में 50 प्रतिशत से अधिक महिला शिल्पकार हैं। प्रधानमंत्री ने दस्ताकारों के साथ बातचीत की और सांस्कृतिक कार्यक्रमों को देखा। हाट में श्री मोदी ने कुछ संगीत वाद्य यंत्रों पर हाथ भी आजमाए। 

हुनर हाट रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने में सरकार के संकल्प के साथ-साथ भारत की स्वदेशी परम्पराओं के संरक्षण और प्रोत्साहन को दिखाता है। इनमें से कई परम्पराएं विलुप्त हो रही हैं। इस वर्ष के हुनर हाट का विषय ‘कौशल को काम’ है। 'हुनर हाट' 13 फरवरी से 23 फरवरी 2020 तक आयोजित किया गया है।  पिछले तीन वर्षों में हुनर हाट के माध्यम से लगभग 3 लाख उस्ताद शिल्पकारों, दस्तकारों और व्यंजन विशेषज्ञों को रोजगार और रोजगार के अवसर प्रदान किए गए है। लाभार्थियों में बड़ी संख्या में महिला शिल्पकार शामिल हैं। 

इससे पहले दिल्ली, मुंबई, प्रयागराज, लखनऊ, जयपुर, अहमदाबाद, हैदराबाद, पुडुचेरी, इंदौर आदि स्थानों पर हुनर हाट आयोजित किए जा चुके हैं। अगले हुनर हाट का आयोजन रांची में 29 फरवरी से 8 मार्च, 2020 तक और फिर चंडीगढ़ में 13 मार्च से 22 मार्च, 2020 तक किया जाएगा। आने वाले दिनों में हुनर हाट का आयोजन गुरुग्राम, बेंगलुरु, चेन्नई, कोलकाता, देहरादून, पटना, भोपाल, नागपुर, रायपुर, अमृतसर, जम्मू, शिमला, गोवा, कोच्चि, गुवाहाटी, भुवनेश्वर, अजमेर आदि में किया जायेगा।

संबंधित खबरें