ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपवन सिंह वापस लेंगे नामांकन? बीजेपी से मिली चेतावनी, मंत्री प्रेम कुमार की ओर से आया रिएक्शन

पवन सिंह वापस लेंगे नामांकन? बीजेपी से मिली चेतावनी, मंत्री प्रेम कुमार की ओर से आया रिएक्शन

काराकाट लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन करने वाले भोजपुरी एक्टर पवन सिंह के खिलाफ बीजेपी एक्शन ले सकती है। मंत्री प्रेम कुमार सिंह ने साफ कहा है कि पार्टी जल्द ही कार्रवाई करेगी।

पवन सिंह वापस लेंगे नामांकन? बीजेपी से मिली चेतावनी, मंत्री प्रेम कुमार की ओर से आया रिएक्शन
Malay Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,पटनाTue, 14 May 2024 02:32 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार की काराकाट लोकसभा सीट काफी सुर्खियों में है। इस सीट पर एनडीए से उपेंद्र कुशवाहा चुनावी मैदान में उतरे हैं तो वहीं दूसरी ओर भोजपुर एक्टर पवन सिंह ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन दाखिल कर बीजेपी की टेंशन वढ़ा दी है। दरअसल, पवन सिंह बीजेपी के सदस्य हैं और बिना पार्टी से इस्तीफा दिए उन्होंने काराकाट सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन दाखिल किया है। ऐसे में इतना तो तय है कि बीजेपी जल्द ही पवन सिंह के खिलाफ कोई बड़ा एक्शन लेगी। अब सवाल उठने लगा है कि क्या बीजेपी के एक्शन लेने से पहले पवन सिंह अपना नामांकन वापस लेंगे? इस बीच नीतीश सरकार में मंत्री और बीजेपी नेता प्रेम कुमार ने कहा है कि अगर पवन सिंह ने नामांकन वापस नहीं लिया तो कार्रवाई होगी। 

सोमवार को डेहरी में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे प्रेम कुमार ने कहा कि कई ऐसे लोग थे, जिन्होंने पार्टी में रहते हुए खिलाफ लड़ा तो उस पर कार्रवाई की गई है। जल्द ही पार्टी उनके (पवन सिंह) खिलाफ पार्टी कार्रवाई करेगी। उन्होंने दावा करते हुए यह भी कहा कि जनता और कार्यकर्ता हमारे उपेंद्र कुशवाहा के साथ है। एक अन्य सवाल के जवाब में प्रेम कुमार ने कहा कि निश्चित तौर पर पवन सिंह पर बीजेपी कार्रवाई करेगी। वह चंद्रवंशी परिवार की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे। उपेंद्र कुशवाहा भी कार्यक्रम में मौजूद थे। 

लग्जरी गाड़ियां, करोड़ों की प्रॉपर्टी; काराकाट से निर्दलीय कैंडिडेट पवन सिंह के पास कितनी संपत्ति है?

गौरतलब है कि पवन सिंह ने 2023 में बीजेपी की सदस्यता ली थी। बिहार के काराकाट लोकसभा सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में नामांकन दाखिल करने के बाद से लगातार पवन सिंह पर कार्रवाई की मांग की जा रही है। हालांकि अभी तक ना तो उन्होंने इस्तीफा दिया है और ना पार्टी ने सीधे तौर पर निकाला है। पवन सिंह ने भी कई मौकों पर साफ कह दिया है कि वह किसी भी कीमत पर पीछे नहीं हटने वाले हैं। लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण के दौरान काराकाट में  एक जून को मतदान होगा।