DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिला पार्षद ने कहा-कोई आंख मारेगा तो कैसे साबित करूं- Video

महिला पार्षद के साथ बदसलूकी के आरोपित मेयर पुत्र शिशिर कुमार ने कहा कि उन्होंने आंख नहीं मारी है। जब वह पिछले एक साल से महिला पार्षद से बात ही नहीं करते तो उनकी तरफ देखने का सवाल ही नहीं उठता। 

बुधवार को महिला आयोग पहुंचे मेयर पुत्र ने कहा कि पूर्व नियोजित साजिश के तहत बदसलूकी का आरोप लगाया गया है। यह पूरी तरह बेबुनियाद व झूठ  है। बैठक में वह आमने-सामने नहीं थे तो मैंने आंख कैसे मारी। वहीं, महिला पार्षद ने कहा कि कोई आंख मारेगा तो दूसरा आदमी कैसे देखेगा। यहां मामला बदसलूकी का है तो नगर निगम में गड़बड़ियों की बात बोलकर मामले को भटकाने की कोशिश क्यों हो रही है। महिला आयोग ने दोनों से साक्ष्य लेकर 13 सितम्बर को उपस्थित होने का आदेश दिया है।

 

बैठकों में अन्य सदस्यों की तरह वह दर्शक दीर्घा में शामिल होते थे: नगर निगम की बैठकों में शामिल होने के सवाल पर मेयर पुत्र ने कहा कि बैठकों में पार्षद पति, उनके परिवार के लोग और मीडिया मैन भी मौजूद रहते हैं। वह बतौर दर्शक दीर्घा में बैठते थे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Patna Mayors son and women councilor come with proof Bihar womens commission