DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › बिहार: फतुहा में प्रेमीयुगल ने ट्रेन के आगे कूदकर दे दी जान
बिहार

बिहार: फतुहा में प्रेमीयुगल ने ट्रेन के आगे कूदकर दे दी जान

लाइव हिन्दुस्तान,पटनाPublished By: Sudhir Kumar
Tue, 28 Sep 2021 11:39 AM
बिहार: फतुहा में प्रेमीयुगल ने ट्रेन के आगे कूदकर दे दी जान

मंगलवार की सुबह फतुहा स्टेशन के पश्चिमी केबिन के पास एक प्रेमीयुगल ने ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी कर ली। हादसे में जहां प्रेमिका की घटनास्थल पर ही मौत हो गई वहीं प्रेमी की भी मौत पटना पीएमसीएच में इलाज के दौरान हो गई। 

दोनों के पास से मिले पहचान-पत्र और मोबाइल से मृतका की पहचान भोजपुर जिले के अगियांव बाजार थाना क्षेत्र के करमनिया गांव निवासी राजकुमार सिंह की पुत्री निशा कुमारी ( 20 वर्ष ) एवं मृतक की पहचान उसी गांव के रहने वाले लालबाबू सिंह के पुत्र दीपक कुमार (23 वर्ष) के रूप में हुई है। आशंका जतायी जा रही है कि प्रेम में असफल होने पर ही दोनों प्रेमी युगल ने यह खौफनाक कदम उठाया। 

बताया जाता है कि दोनों किसी ट्रेन से मंगलवार की अल सुबह फतुहा पहुंचे। इसके बाद दोनों स्टेशन के पश्चिम पुराने मालगोदाम की ओर चले गए। इसी दौरान दोनों डाउन में आ रही किसी ट्रेन के आगे कूद गए। हादसे में युवती की मौके पर ही मौत हो गई जबकि युवक बुरी तरह घायल हो गया। स्थानीय लोगों से घटना की जानकारी मिलने के बाद फतुहा जीआरपी ने मौके पर पहुंचकर गंभीर रूप से घायल युवक को इलाज के लिए फतुहा सीएचसी में भर्ती कराया जहां से डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद बेहतर इलाज के लिए उसे पीएमसीएच रेफर कर दिया। इलाज के दौरान पीएमसीएच में उसकी भी मौत हो गई। 

इधर पुलिस ने घटनास्थल से मिले मोबाइल और आधार कार्ड से दोनों के परिजनों को घटना की जानकारी दी। फतुहा पहुंचे मृतका के परिजनों से छानबीन कर आवश्यक कागजी कार्रवाई करने के बाद मृतका का पोस्टमार्टम कराकर रेल पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया। 

दोनों प्रेमीयुगल शादीशुदा थे। निशा की शादी 5 माह पूर्व उसी गांव के अनिर्ल ंसह के साथ हुई थी। जबकि दीपक की शादी करीब ढाई वर्ष पूरे बिहियां के कमरियांव गांव में हुई थी। दीपक पिता बनने वाला था जबकि निशा का गौना भी नहीं हुआ था। दोनों सोमवार की सुबह करीब 9 बजे बाइक से आरा पहुंचे। बाइक एक पुल के नीचे लगाकर दोनों फतुहा आए। परिजनों ने बताया कि अंतिम बार सुबह 4 बजे मोबाइल पर आए मैसेज से पता चला कि दोनों फतुहा आ चुके हैं और बाइक आरा में ही है। रेल पुलिस द्वारा खबर मिलने के बाद हमलोग फतुहा पहुंचे। रेल थानाध्यक्ष भरत राम ने बताया कि दोनों के परिजनों को शव सौंप दिया गया।

संबंधित खबरें