DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहारनवादा: मुखिया बनने के लिए पति-पत्नी आमने-सामने, आखिर क्या है इस दिलचस्प लड़ाई की वजह?

नवादा: मुखिया बनने के लिए पति-पत्नी आमने-सामने, आखिर क्या है इस दिलचस्प लड़ाई की वजह?

लाइव हिन्दुस्तान,नवादाSudhir Kumar
Sat, 23 Oct 2021 03:09 PM
नवादा: मुखिया बनने के लिए पति-पत्नी आमने-सामने, आखिर क्या है इस दिलचस्प लड़ाई की वजह?

नवादा में पंचायत चुनाव का एक दिलचस्प रंग देखा जा रहा है। चुनाव के मैदान में एक पति और पत्नी के बीच खुलकर लड़ाई का नजारा आम हो गया है। दोनो एक दूसरे को परास्त कर देने के लिए पूरी ताकत से लगे हुए हैं। लेकिन यह लड़ाई कानूनी या मल्ल युद्ध नही है बल्कि राजनैतिक लड़ाई है। जिले के सदर प्रखंड के ओरैना पंचायत में मुखिया पद पर पति-पत्नी एक दूसरे के प्रतिद्वन्दी बनकर उतरे हैं। ये दो प्रत्याशी हैं अमित कुमार और उनकी पत्नी पूनम कुमारी। दोनो अपनी जीत के लिए जनता के बीच पसीना बहा रहे हैं। दोनों का एक ही पंचायत में मुखिया पद के लिए खड़े हो जाना लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।

आखिर क्या मजबूरी है कि वे पति-पत्नी एक-दूसरे के खिलाफ मैदान में उतर गए हैं। इलाके में इस विषय पर लोग खूब चर्चा कर रहे हैं। कुछ लोग इसकी वजह का खुलासा करने के लिए पूरी ताकत से लगे हुए हैं। कुछ ऐसे भी वोटर हैं जो पेशोपेश में हैं कि किसे वोट दिया जाए। सवाल पूछने पर पति अमित और पत्नी पूनम कुमारी दोनो यह कहते हैं कि लोकतंत्र में सबको चुनाव लड़ने का अधिकार है। जो भी जीते दोनो मिलकर जनता की सेवा करेंगे। लेकिन यह बात मतदाताओं को पच नही रहा है। भगवान नारद की श्रेणी के ग्रामीण इसके पीछे की वजह तलाशने में जुट गये हैं। दबी जुबान में यह भी कहा जा रहा है कि पति-पत्नी के बीच सबकुछ ठीक नही है क्योंकि अगर ऐसा होता तो कोई एक चुनाव लड़ता और दूसरा उसका भरपूर सहयोग करता।

परिवार वालों के सामने यह बड़ी समस्या बनी हुई है। इसलिए घर में कोई किसी का पक्ष नहीं ले रहा है। प्रत्याशी अमित की मां अहिल्या देवी बेटे बहु की लड़ाई को ममता से ढंकने की कोशिश कर रही है। कहती है कि कोई भी जीतेगा तो मुखिया तो मेरे घर में ही रहेगा। हालांकि यह कहते हुए वे अपने चेहरे से चिंता की लकीर नही मिटा पाती हैं। प्रत्याशी अमित कहते हैं कि पति पत्नी में से जो भी जीतेगा, जीत मेरी हीं होगी। लेकिन पत्नी पूनम अपनी बात बताने से नही हिंचकती। उनका कहना है क्षेत्र में महिलाएं पिछड़ी हुई हैं। उनका समान रूप से विकास होना चाहिए। इसीलिए वे मैदान में आई हैं। पूनम मानती हैं कि उनकी लड़ाई अपने पति अमित कुमार से हीं है।
 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें