ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारबेंगलुरु में बन जाएगा विपक्ष का मोर्चा, लालू यादव बोले- कई चीजें तय हो जाएंगी, 18 जुलाई की मीटिंग निर्णायक

बेंगलुरु में बन जाएगा विपक्ष का मोर्चा, लालू यादव बोले- कई चीजें तय हो जाएंगी, 18 जुलाई की मीटिंग निर्णायक

आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने विपक्षी एकता की दूसरी बैठक को अहम बताते हुए कहा कि बेंगलुरु में विपक्ष का मोर्चा बन जाएगा। और बैठक में कई चीजें तय हो जाएंगी। 17 और 18 जुलाई को विपक्षी एकता की बैठक है।

बेंगलुरु में बन जाएगा विपक्ष का मोर्चा, लालू यादव बोले- कई चीजें तय हो जाएंगी, 18 जुलाई की मीटिंग निर्णायक
Sandeepअनिरबन गुहा रॉय,पटनाThu, 06 Jul 2023 05:55 PM
ऐप पर पढ़ें

बीमार चल रहे राजद प्रमुख लालू प्रसाद ने गुरुवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि 17 और 18 जुलाई को बेंगलुरू में बुलाई गई दूसरी विपक्षी एकता की बैठक निर्णायक होगी। क्योंकि 2024 के आम चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले NDA को घेरने के लिए प्रस्तावित मोर्चे को अंतिम रूप दिया जाएगा। बैठक में सीट बंटवारे समेत कई मुद्दों पर चर्चा होगी। उन्होने कहा कि हम पीएम मोदी को सत्ता से बाहर कर देंगे। 

विपक्ष की 'एक के खिलाफ एक' की रणनीति
बेंगलुरु में होने वाली विपक्षी एकता की बैठक में कांग्रेस, वामपंथी और कई क्षेत्रीय दलों शामिल होंगे। इससे पहले 23 जून को पटना में हुई विपक्षी दलों की बैठक में 15 दलों ने 'एक के खिलाफ एक' रणनीति पर भाजपा से लड़ने के लिए विपक्षी गुट की जरुरतों पर चर्चा करने के लिए भाग लिया था। अगले चुनावों में 543 लोकसभा सीटों में से लगभग 450 संसदीय सीटों पर एनडीए उम्मीदवारों के खिलाफ विपक्ष के एकल उम्मीदवार खड़े करने की रणनीति बनी है। 

कमजोर बीजेपी खत्म हो जाएगी- लालू यादव
वहीं बीजेपी पर निशाना साधते हुए लालू यादव ने कहा कि कहा कि भाजपा धीर-धीरे कमजोर हो रही है। और खत्म हो जाएगी। राजद प्रमुख का आज यह कहना कि विपक्षी दलों की बेंगलुरु बैठक में कई निर्णय लिए जाएंगे, यह संकेत है कि प्रस्तावित विपक्षी गुट को आकार देने की प्रक्रिया चल रही है। अब देखना होगा कि बेंगलुरु की बैठक में संयोजक के चुनाव पर निर्णय लेती है या नहीं। कुछ दिन पहले राजद प्रमुख लालू यादव  ने कहा था कि विपक्षी मोर्चे के संयोजक के चुनाव पर पार्टियों के बीच अभी तक कोई बातचीत नहीं हुई है।

यह भी पढ़िए- राजनीति में बूढ़ा आदमी रिटायर नहीं होता, शरद पवार पर बोलते हुए लालू यादव ने क्या संकेत दिए?

ब्लड टेस्ट के लिए दिल्ली गए लालू 
वहीं लैंड फॉर जॉब स्कैम में बेटे और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के खिलाफ दायर चार्जशीट के सवाल पर लालू ने कहा कि बहुत सी चार्जशीट आईं और गईं। आपको बता दें सीबीआई द्वारा दाखिल चार्जशीट में लालू यादव और पूर्व सीएम राबड़ी देवी का भी नाम शामिल हैं।  बीमार राजद प्रमुख ने आगे दोहराया कि वह विपक्ष की बैठक में भाग लेने के लिए बेंगलुरु जाएंगे। उन्होंने कहा, मैं पटना लौटूंगा और फिर बेंगलुरु जाऊंगा। लालू ने कहा कि वो ब्लड टेस्ट और जांच कराने के लिए दिल्ली जा रहे हैं क्योंकि जरूरी टेस्ट की सुविधा दिल्ली में उपलब्ध है। 

बीजेपी पर बरसे लालू यादव
75 वर्षीय प्रसाद का पिछले साल किडनी प्रत्यारोपण हुआ था, जब उनकी दूसरी बेटी रोहिणी अर्चरिया ने सर्जरी के लिए अपनी एक किडनी दान की थी।बुधवार को, राजद ने पीएम मोदी और भाजपा पर राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ मामले दर्ज करके उन्हें परेशान करने का आरोप लगाते हुए जोरदार हमला बोला था और कहा था कि ऐसी दमनकारी रणनीति लंबे समय तक नहीं चलेगी। लालू  ने इस बात पर भी जोर दिया था कि 23 जून को पटना में हुई 15 दलों की विपक्षी बैठक के बाद भाजपा घबराई हुई है। बीजेपी नेतृत्व वाले एनडीए सरकार में देश का संविधान खतरे में है।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें