ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारपटना में बड़ा हादसा; गंगा नदी में नाव पटलने से 5 लोग डूबे, NHAI के पूर्व अधिकारी भी शामिल

पटना में बड़ा हादसा; गंगा नदी में नाव पटलने से 5 लोग डूबे, NHAI के पूर्व अधिकारी भी शामिल

गंगा दशहरा के दिन बिहार के पटना में बाढ़ के कारण गंगा में नाव के पलटने से 17 लोग डूब गए। जिसमें 5 लोग डूब गए हैं। 13 लोगों को गोताखोरों ने बचा लिया है। डूबे लोगों में NHAI के पूर्व अधिकारी भी हैं।

पटना में बड़ा हादसा; गंगा नदी में नाव पटलने से 5 लोग डूबे, NHAI के पूर्व अधिकारी भी शामिल
boat accident at patna in ganga river
Ratanलाइव हिंदुस्तानSun, 16 Jun 2024 03:18 PM
ऐप पर पढ़ें

राजधानी पटना में बाढ़ के उमाशंकर घाट पर रविवार की सुबह पांच लोग गंगा में डूब गए। सभी नालंदा से शव का अंतिम संस्कार करने आए थे। अंतिम संस्कार के बाद स्नान के लिए नाव से गंगा के दूसरे छोर पर जाने के दौरान यह हादसा हुआ। डूबने वालों में एनएचएआई के पूर्व क्षेत्रीय अधिकारी अवधेश कुमार और उनके पुत्र समेत पांच लोग शामिल बताए जा रहे हैं। एनडीआरएफ की टीम डूबे लोगों की तलाश कर रही है। पटना के डीएम शीर्षत कपिल अशोक भी मौके पर पहुंचकर घटना की पूरी जानकारी ली। 

पटना के एसएसपी राजीव मिश्रा ने बताया कि नाव पर एक ही परिवार के 17 लोग सवार थे। इनमें 12 को नाविकों और स्थानीय गोताखोरों की मदद से बचा लिया गया। एसडीआरएफ टीम भी मौके पर पहुंच गई है और गंगा में डूबे लोगों की तलाश में जुटी है।

बताया जाता है कि नाव हादसे में डूबने वालों में अवधेश कुमार (60 वर्ष), उनके पुत्र नीतीश कुमार (30 वर्ष), हरदेव प्रसाद (65 वर्ष) और एक महिला समेत कुल पांच लोग शामिल है। हालांकि आधिकारित तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की गई है। हादसे की खबर मिलने के बाद बाढ़ एसडीएम, एएसपी, थाना प्रभारी भी वहां पहुंचे और एसडीआरपीएफ की टीम को बुलाया गया। अभी तक डूबे हुए लोगों का कोई अता-पता नहीं चला है। 

 

अवधेश कुमार एनएचएआई के क्षेत्रीये पदाधिकारी के पद से इसी वर्ष फरवरी में सेवानिवृत हुए हैं। नालंदा के अस्थावां स्थित मालती गांव के रहनेवाले अवधेश कुमार की मां का निधन हो गया था। उनके अंतिम संस्कार में गांव के कई लोग बाढ़ आए थे।

अंतिम संस्कार पूरा होने के बाद स्नान के लिए 17 लोग एक नाव पर सवार होकर गंगा के दूसरी छोर पर जा रहे थे। इस दौरान नाव पलट गई। इनमें 12 लोगों को बचा लिया गया। वहीं पांच व्यक्ति गंगा में डूब गए। डूबने वालों के संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक जानकारी साझा नहीं की गई है।