ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारचुनाव आया तो सनातनी हो गए, 5 साल तक टोपी पहन कर...; लालू परिवार पर बरसे नीतीश के मंत्री

चुनाव आया तो सनातनी हो गए, 5 साल तक टोपी पहन कर...; लालू परिवार पर बरसे नीतीश के मंत्री

पिछले दिनों चुनाव प्रचार के दौरान लालू यादव की बेटी और पाटलिपुत्र लोकसभा सीट की आरजेडी उम्मीदवार मीसा भारती ने दावा किया था कि उनके परिवार के लोग भी सनातनी हैं। नीतीन नबीन ने इसका जवाब दिया।

चुनाव आया तो सनातनी हो गए, 5 साल तक टोपी पहन कर...; लालू परिवार पर बरसे नीतीश के मंत्री
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSat, 27 Apr 2024 03:14 PM
ऐप पर पढ़ें

Lok Sabha Election 2024: भाजपा नेता और नीतीश सरकार के मंत्री नितिन नवीन ने लालू परिवार पर बड़ा हमला किया है। कहा है कि चुनाव आ गया है तो उन्हें सनातन धर्म की याद आ रही है। इतने दिनों तक जब हिंदू धर्म देवी देवताओं को गाली दी जाती रही तो लालू और उनके परिवार के लोग खामोश रहे।  उन्होंने कहा कि 5 साल तक टोपी पहन सनातन का विरोध करते रहे। अब वोट लेने के लिए खुद को सनातनी बता रहे हैं। 

पिछले दिनों चुनाव प्रचार के दौरान लालू यादव की बेटी और पाटलिपुत्र लोकसभा सीट की आरजेडी उम्मीदवार मीसा भारती ने दावा किया था कि उनके परिवार के लोग भी सनातनी हैं।  बचपन से ही पूजा पाठ सीखा है। कोई भी काम करने से पहले माता पिता और देवी देवता से आशीर्वाद लेते हैं।व्यस्त होने के कारण अयोध्या नहीं गए। समय मिलेगा तो प्रभु श्री राम के दर्शन पर अयोध्या जाएंगे। 

मीसा भारती के इस बयान की याद दिलाते हुए नितिन नवीन ने कहा कि जब राजद कोट के मंत्री प्रभु श्रीराम, रामायण और सरस्वती माता के बारे में बोल रहे थे तो लालू परिवार के लोगों ने छुपी साध ली।  जब कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे ने हिंदू धर्म का अपमान किया तो खामोश क्यों रहे।  अब उन्हें कैसे सनातन और राम की याद आ गई। 

लाो

भाजपा नेता और नीतीश सरकार के मंत्री नितिन नबीन ने लालू परिवार पर बड़ा हमला किया है। कहा है कि चुनाव आ गया है तो उन्हें सनातन धर्म की याद आ रही है। इतने दिनों तक जब हिंदू धर्म देवी देवताओं को गाली दी जाती रही तो लालू और उनके परिवार के लोग खामोश रहे।  उन्होंने कहा कि 5 साल तक टोपी पहन सनातन का विरोध करते रहे। अब वोट लेने के लिए खुद को सनातनी बता रहे हैं। बिहार में लोकसभा चुनाव के  दो चरण संपन्न हो चुके हैं।

पिछले दिनों चुनाव प्रचार के दौरान लालू यादव की बेटी और पाटलिपुत्र लोकसभा सीट की आरजेडी उम्मीदवार मीसा भारती ने दावा किया था कि उनके परिवार के लोग भी सनातनी हैं।  बचपन से ही पूजा पाठ सीखा है। कोई भी काम करने से पहले माता पिता और देवी देवता से आशीर्वाद लेते हैं।व्यस्त होने के कारण अयोध्या नहीं गए। समय मिलेगा तो प्रभु श्री राम के दर्शन पर अयोध्या जाएंगे। 

मीसा भारती के इस बयान की याद दिलाते हुए नितिन नबीन ने कहा कि जब राजद कोट के मंत्री प्रभु श्रीराम, रामायण और सरस्वती माता के बारे में बोल रहे थे तो लालू परिवार के लोगों ने छुपी साध ली।  जब कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे ने हिंदू धर्म का अपमान किया तो खामोश क्यों रहे।  अब उन्हें कैसे सनातन और राम की याद आ गई। 

लालू यादव के पुत्र पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव पर भी उन्होंने निशाना साधा। कहा कि नीतीश कुमार ने अपने मुख्यमंत्री काल में सरकारी नौकरियां दी। इसका झूठा क्रेडिट तेजस्वी यादव ले रहे हैं।  कहा कि उनके शिक्षा मंत्री ऑफिस नहीं जा रहे थे। फाइल पर उनके दस्तखत नहीं हैं। तेजस्वी यादव 17 महीने में 5 साल नौकरी की जो बात कर रहे हैं वह सही नहीं है। उधर राज्यसभा सांसद संजय झा ने कहा कि राजद के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर बीपीएससी से शिक्षक बहाली के विरोध में थे। वे पुराना तरीका अपनाकर अपनी मर्जी चलाने के मूड में थे। लेकिन सीएम नीतीष कुमार ने बीपीएससी से शिक्षक बहाली का ऐलान पहले ही कर दिया था।

 यादव के पुत्र पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव पर भी उन्होंने निशान साधा। कहा कि नीतीश कुमार ने अपने मुख्यमंत्री काल में सरकारी नौकरियां दी।न इसका झूठा क्रेडिट तेजस्वी यादव ले रहे हैं।  कहा कि उनके शिक्षा मंत्री ऑफिस नहीं जा रहे थे। फाइल पर उनके दस्तखत नहीं हैं। तेजस्वी यादव 17 महीने में 5 साल नौकरी की जो बात कर रहे हैं वह सही नहीं है। उधर राज्यसभा सांसद संजय झा ने कहा कि राजद के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर बीपीएससी से शिक्षक बहाली के विरोध में थे। वे पुराना तरीका अपनाकर अपनी मर्जी चलाने के मूड में थे। लेकिन सीएम नीतीष कुमार ने बीपीएससी से शिक्षक बहाली का ऐलान पहले ही कर दिया था।