ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार'नीतीश कहेंगे, ऊ लोग नदी-पानी के साथ सब गड़बड़ करता है...', बिहार में पुलों के गिरने पर तेजस्वी का तंज

'नीतीश कहेंगे, ऊ लोग नदी-पानी के साथ सब गड़बड़ करता है...', बिहार में पुलों के गिरने पर तेजस्वी का तंज

बिहार में लगातार पुलों के ढहने की घटना पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार को घेरा है। और तंज कसते हुए कहा कि अब मुख्यमंत्री कहेंगे कि ऊ लोग नदी और पानी के साथ गड़बड़ करता रहता है।

'नीतीश कहेंगे, ऊ लोग नदी-पानी के साथ सब गड़बड़ करता है...', बिहार में पुलों के गिरने पर तेजस्वी का तंज
Sandeepलाइव हिन्दुस्तानै,पटनाSun, 23 Jun 2024 05:40 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार में पुलों के ढहने की घटनाओं पर नेता प्रतिपक्ष और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बिहार की एनडीए सरकार पर तंज कसा है। एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा कि मुख्यमंत्री अब कहेंगे कि पहले पुल गिरता था जी? ऊ लोग नदी और पानी के साथ मिल ई सब गड़बड़ करता रहता है। तेजस्वी ने दोनों डिप्टी सीएम पर भी निशाना साधा।

तेजस्वी ने एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा 18 वर्षों के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बेचारे दो-दो उपमुख्यमंत्री तो इन सबके बारे में जानते ही नहीं है। जानकर कर भी क्या लेंगे? ज्यादा से ज्यादा क्या होगा? डबल इंजनधारी लोग कह देंगे कि पुल ख़ुदक़ुशी कर रहे है या चूहे पुल कुतर रहे है।

प्रधानमंत्री जी कहेंगे, भाइयों-बहनों, चुपचाप पुल गिरते हुए देखो नहीं तो कथित जंगलराज आ जाएगा। पुल गिरना 𝐀𝐜𝐭 𝐨𝐟 𝐆𝐨𝐝 है। ये मोदी की गारंटी से भी बड़ी गारंटी वाले पुल थे लेकिन ईश्वर की मर्जी के आगे कंक्रीट के पुल की क्या मजाल? मित्रों, बोलो- जय श्री राम!  मुख्यमंत्री कहेंगे कि, पहले पुल गिरता था जी? अब हम लोग एक साथ आ गए है तो पुल गिर रहे है। जान लीजिए, एक-एक पुल गिर रहा है। गिर रहा है तो गिर रहा है। ऊ लोग इ किया है जी? ऊ लोग नदी और पानी के साथ मिल ई सब गड़बड़ करता रहता है। हम सब जांच कराएंगे।

यह भी पढ़िए- Bihar Bridge Collapsed: अररिया में उद्घाटन के पहले ही ढह गया पुल, 12 करोड़ लागत से हुआ था तैयार

आपको बता दें बीते दो दिनों में बिहार में दो बड़ पुल ढह चुके हैं। हाल ही में अररिया जिले में निर्मााणाधीन पुल उद्घाटन से पहले ही ढह गया। जिसकी लागत 12 करोड़ थी। वहीं आज पूर्वी चंपारण जिले के घोड़ासहन प्रखंड के अमवा में बन रहा आरसीसी पुल निर्माण के साथ ही भड़भड़ा कर गिर गया। पुल का निर्माण ग्रामीण कार्य विभाग ढ़ाका प्रमंडल की देख रेख में किया जा रहा था।

पुल की कुल लंबाई 17.95 मीटर है। इसके बनने में खर्च होने वाली अनुमानित लागत को डेढ़ करोड़ से ज्यादा थी। इस पुल को ग्रामीण कार्य विभाग की देखरेख में बनाया जा रहा है। पुल निर्माण की जिम्मेदारी धीरेंद्र कंस्ट्रक्शन को मिली थी। वही इसके निर्माण में लगा हुआ था। 

यह भी पढ़िए- भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा बिहार का एक और पुल, मोतिहारी में निर्माणाधीन ब्रिज ध्वस्त

बिहार में पुलों के ढह जाने की ये कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले मार्च महीने में सुपौल में निर्माणाधीन पुल का हिस्सा गिर गया था। जिसमें एक शख्स की मौत हुई थी। और 9 लोग घायल हुए थे। कोशी नदी पर पुल का निर्माण चल रहा था।  

बीते साल 4 जून को खगड़िया के अगुवानी गंगा घाट पर निर्माणाधीन पुल के तीन पिलर धंस गए थे। और पुल का एक हिस्सा नदी में समा गया था। पुल की लागत 1700 करोड़ के करीब थी। जिसकी जांच के आदेश नीतीश सरकार ने दिए थे। पुल के डिजाइन पर भी सवाल उठे थे। साल 2023 में फरवरी में पटना में एक पुल भ्रष्टाचार के भेंट चढ़ा था। बिहटा-सरमेरा फोन लेन पर बन रहा पुल ढह गया था।