DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  पप्पू यादव  की गिरफ्तारी पर मांझी के बाद नीतीश के मंत्री सहनी भी नाराज, कांग्रेस भी हुई मुखर

बिहारपप्पू यादव  की गिरफ्तारी पर मांझी के बाद नीतीश के मंत्री सहनी भी नाराज, कांग्रेस भी हुई मुखर

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो Published By: Yogesh Yadav
Tue, 11 May 2021 08:54 PM
पप्पू यादव  की गिरफ्तारी पर मांझी के बाद नीतीश के मंत्री सहनी भी नाराज, कांग्रेस भी हुई मुखर

विकासशील इंसान पार्टी के अध्यक्ष और प्रदेश के पशु एवं मत्स्य विभाग के मंत्री मुकेश सहनी ने जाप के अध्यक्ष पप्पू यादव की गिरफ्तारी को गलत ठहराया है। सहनी ने मंगलवार को ट्वीट कर इस पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी। इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री व हम के प्रमुख जीवन राम मांझी ने पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर नाराजगी व्यक्त की थी। पप्पू यादव को मंगलवार की सुबह उनके घर से गिरफ्तार कर लिया गया था। उन पर पीएससीएच कोरोना अस्पताल में घुसने के बाद कई आरोपों में गिरफ्तार किया गया।

सहनी ने कहा कि जनता की सेवा ही धर्म होना चाहिए। सरकार को जनप्रतिनिधि, सामाजिक संस्था एवं कार्यकर्ता को आमजन की मदद के लिए प्रेरित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि को भी कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करना चाहिए। सहनी ने कहा कि ऐसे समय में सेवा में लगे जाप अध्यक्ष पप्पू यादव को गिरफ्तार करना असंवेदनशील है। 

इससे पहले मांझी ने मंगलवार को ट्वीट किया है कि कोई जनप्रतिनिधि अगर दिन-रात जनता की सेवा करे और उसके एवज़ में उसे गिरफ़्तार किया जाए। ऐसी घटना मानवता के लिए ख़तरनाक है। ऐसे मामलों की पहले न्यायिक जांच कर, तब ही कोई कार्रवाई होनी चाहिए, नहीं तो जन आक्रोश होना लाज़मी है। 

पप्पू यादव की गिरफ्तारी के खिलाफ कांग्रेस भी मुखर हुई
पप्पू यादव की गिरफ्तारी के खिलाफ कांग्रेस भी मुखर हो गई है। कांग्रेस के मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़ ने कहा है कि भागलपुर से लेकर पटना के अस्पताल में मरीजों के परिजनों और महिलाओं के साथ छेड़खानी और मारपीट की सूचना पर न गिरफ्तारी होती है और न ही कार्रवाई। लेकिन छपरा में एम्बुलेंस रखने के मामले पर जब पप्पू यादव ने आवाज उठाई तो उन्हें हिरासत में ले लिया गया।

आरोप लगाया है कि कोरोना काल में सरकार फेल है। ऐसे में तमाम विपक्षी दल के नेता जन सेवा में कार्यरत हैं, जिससे सरकार के सम्मान को ठेस लग गयी है। इसी के परिणामस्वरूप दिल्ली में जहां यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पर केस दर्ज होता है वहीं बिहार में पप्पू यादव को हिरासत में लिया जाता है तो कहीं किसी विपक्षी नेता को हाउस अरेस्ट किया जाता है।

संबंधित खबरें