ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहारलोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ कराने के समर्थन में जेडीयू, वन नेशन वन इलेक्शन के लिए सौंपा ज्ञापन

लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ कराने के समर्थन में जेडीयू, वन नेशन वन इलेक्शन के लिए सौंपा ज्ञापन

नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने वन नेशन वन इलेक्शन के प्रति अपना समर्थन जाहिर किया है। इस संबंध में जेडीयू ने रामनाथ कोविंद की अध्यक्षता वाली कमिटी को ज्ञापन सौंपा है।

लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ कराने के समर्थन में जेडीयू, वन नेशन वन इलेक्शन के लिए सौंपा ज्ञापन
Jayesh Jetawatलाइव हिन्दुस्तान,पटनाSat, 17 Feb 2024 09:16 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू लोकसभा और विधानसभा के चुनाव साथ कराने के समर्थन में है। जेडीयू ने वन नेशन वन इलेक्शन के प्रति अपना समर्थन जाहिर किया है। जेडीयू संसदीय दल के नेता राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह के साथ बिहार के पूर्व मंत्री संजय कुमार झा ने शनिवार को दिल्ली में पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की अध्यक्षता वाली हाईलेवल कमिटी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने समिति को जेडीयू का ज्ञापन सौंपा।

संजय झा ने शनिवार को सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जेडीयू अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुरू से ही एक देश एक चुनाव की नीति के समर्थक रहे हैं। उनका और पार्टी का मानना है कि सुशासन की संरचना को मजबूत करने की दिशा में एक देश एक चुनाव महत्वपूर्ण कदम होगा। विधि आयोग की रिपोर्ट और इससे संबंधित तमाम तथ्यों एवं बहसों पर गंभीरता से विचार करते हुए जेडीयू ने लोकसभा और राज्य विधानमंडल के चुनाव एक साथ कराने, जबकि पंचायतों और नगर पालिकाओं के चुनाव एक साथ कराने, लेकिन संसदीय चुनाव और पंचायती राज के चुनाव अलग-अलग कराने के पक्ष में अपना समर्थन व्यक्त किया है।

श्री झा ने कहा कि जदयू ने इस संदर्भ में देशभर में सीआईआई, फिक्की, एसोचैम सहित विभिन्न संगठनों के साथ हुए विमर्श में उभरी राय पर गंभीरता से विचार किया है। साथ ही, भारत में एक साथ चुनाव कराने के इतिहास को भी ध्यान में रखा है। वर्ष 1947 में आजादी मिलने के बाद से लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव अधिकतर एक साथ आयोजित हुए थे, लेकिन 1960 के दशक के अंतिम वर्षों से एक साथ चुनाव का सिलसिला विभिन्न कारणों से बाधित हो गया। इससे पहले वर्ष 2018 में भारत के विधि आयोग द्वारा आमंत्रित सुझावों के जवाब में भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जदयू ने लोकसभा तथा विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराने की नीति को अपना समर्थन दिया था।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें