DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  कोरोना: नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, बिहार में 25 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

बिहारकोरोना: नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, बिहार में 25 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

लाइव हिन्दुस्तान,पटनाPublished By: Sneha Baluni
Thu, 13 May 2021 05:04 PM
कोरोना: नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, बिहार में 25 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

बिहार में कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए नीतीश कुमार सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने 25 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है। इससे पहले राज्य में 5 मई से 15 मई तक लॉकडाउन लगाया गया था। अब इसे 10 दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है। इसकी जानकारी खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दी। उन्होंने ट्वीट कर बताया कि राज्य में 25 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है।

नीतीश कुमार ने ट्वीट कर कहा, 'आज सहयोगी मंत्रीगण एवं पदाधिकारियों के साथ बिहार में लागू लॉकडाउन की स्थिति की समीक्षा की गई। लॉकडाउन का सकारात्मक प्रभाव दिख रहा है। अतः बिहार में अगले 10 दिनों अर्थात 16 से 25 मई, 2021 तक लॉकडाउन को विस्तारित करने का निर्णय लिया गया है।'

 

 

हाईकोर्ट की फटकार के बाद लगाया था लॉकडाउन
बिहार सरकार ने पटना हाईकोर्ट से मिली फटकार के बाद राज्य में पांच मई से 15 मई तक लॉकडाउन लगाया था। इसकी मियाद शनिवार को खत्म हो रही थी। अब सरकार ने इसे 10 और दिनों के लिए बढ़ा दिया है। राज्य में कोरोना के केस घटने शुरू हो गए हैं। मगर रोजाना 10 हजार के आसपास पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं। इसी वजह से सरकार ने लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला लिया है।

लॉकडाउन से कम हो रही कोरोना संक्रमण दर
इससे पहले बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए पांच से 15 मई तक बिहार में लॉकडाउन लगाया गया है। लॉकडाउन शुरू करने से कोरोना मरीज की संख्या और संक्रमण दर में कमी आनी शुरू हो गई है। लॉकडाउन की सफलता के लिए सभी बिहारवासियों के सहयोग की आवश्यकता है। मुझे पूरा भरोसा है कि हम सब मिलकर इस बीमारी पर अवश्य विजय प्राप्त करेंगे।

मुख्यमंत्री ने बुधवार को ट्विटर पर ऑडियो संदेश जारी किया था। मुख्यमंत्री ने बिहारवासियों से कोरोना महामारी के खिलाफ एकजुट होकर दृढ़ इच्छाशक्ति और सकारात्मक सोच के साथ मुकाबला करने की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि आज दुनिया भर के लोगों की तरह देश के लोग भी कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं। बिहार में पिछले वर्ष इस बीमारी से लोगों को राहत पहुंचाने के लिए कई कदम उठाए गए थे। 

संबंधित खबरें