ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारसुधरेगा या परलोक सिधारेगा, नीतीश के डिप्टी CM विजय सिन्हा का अपराधियों को चेतावनी; RJD को भी लपेटा

सुधरेगा या परलोक सिधारेगा, नीतीश के डिप्टी CM विजय सिन्हा का अपराधियों को चेतावनी; RJD को भी लपेटा

विजय सिन्हा दावा करते हैं कि बिहार में कानून का राज है। अपराधी इसे कान खोलकर सुन लें। कड़े लहजे में डिप्टी सीएम ने कहा कि अपना रास्ता बदल लें नहीं तो सरकार उनका सफाया करने से भी पीछे नहीं हटेगी।

सुधरेगा या परलोक सिधारेगा, नीतीश के डिप्टी CM विजय सिन्हा का अपराधियों को चेतावनी; RJD को भी लपेटा
Sudhir Kumarलाइव हिन्दुस्तान,पटनाMon, 17 Jun 2024 01:56 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के मुख्यमंत्री अपराध और भ्रष्टाचार को लेकर जीरो टॉलरेंस की बात करते हैं। क्राइम कंट्रोल पर बिहार सरकार के डिप्टी सीएम विजय कुमार सिन्हा का बड़ा बयान सामने आया है।  यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के स्टाइल में क्रिमिनल्स को खुली चेतावनी देते हुए विजय सिन्हा ने कहा कि या तो वे सुधर जाएं नहीं तो परलोक सिधार जाएंगे। आरजेडी को लपेटे में लेते हुए उन्होंने  लालू यादव और तेजस्वी से प्रभावित पदाधिकारियों को भी सुधर जाने की नसीहत दी है।

लखीसराय में प्रेस को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम विजय कुमार सिन्हा ने दो टूक शब्दों में अपराधियों को सीधे चेतावनी दी।  उन्होंने कहा कि स्पेशल टीम का गठन फिर से कराया जाएगा और अपराधियों के खिलाफ मुक्त हस्त कार्रवाई होगी। या तो अपराधी सुधरेंगे नहीं तो परलोक सिधार जाएंगे। सरकार दोनों तरह की व्यवस्था बना रही है। गिरफ्तारी भी होगी और जो लोग अपनी क्रिमिनल एक्टिविटी पर विराम नहीं लगाएंगे उन्हें परलोक भेजने की भी व्यवस्था होगी। बदमाशों को यह खुली चेतावनी है।  बिहार में कानून का राज है।  मुख्यमंत्री जी ने साफ कर दिया है कि हर हाल में कानून का राज स्थापित करेंगे। 2005 से 2010 के बीच जिस तरह से सरकार ने अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की थी उसे दोहराया जाएगा।  इसकी शुरुआत भी हो चुकी है।  बालू माफिया,  शराब माफिया और जमीन माफिया के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जा रही है। 

यादव और मुसलमान का काम नहीं करूंगा; सीतामढ़ी के जेडीयू सांसद देवेश चंद्र ठाकुर ने क्यों कही ये बात?

डिप्टी सीएम विजय सिंह का गुस्सा भ्रष्टाचार में लिप्त पदाधिकारियों पर भी फूटा।  उन्होंने कहा कि जो भ्रष्ट पदाधिकारी राजद के द्वारा संरक्षित और पोषित हैं या उनके संपर्क में हैं उनके खिलाफ भी कार्रवाई चलेगी। उन लोगों को चिन्हित कर एक्शन लिया जाएगा।  इसकी जिम्मेदारी एनडीए कार्यकर्ताओं को दी गई है कि ऐसे पदाधिकारी का प्रमाण के साथ लिस्ट बनाएं और सरकार के पास लाएं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का स्पष्ट निर्देश है कि अपराध और भ्रष्टाचार को किसी भी रूप में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। 

विजय सिन्हा ने आरजेडी पर भी हमला किया।  उन्होंने कहा कि जब राजद के लोग सरकार में थे तो अपराधी और भ्रष्टाचारियों को संरक्षण दे रहे थे।  इस वजह से उनका मनोबल बढ़ता चला गया।  अब वैसे लोगों को चिन्हित किया जा रहा है और हर हाल में उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। इन लोगों ने भ्रष्ट तरीके से जो संपत्ति कमाई की है उसे भी जब्त किया जाएगा। जेडीयू और भाजपा लोकसभा चुनाव के बाद बिहार विधानसभा के चुनाव की तैयारी में जुट गई है।  इसी के तहत सरकार एक्शन में है। 

Advertisement