ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहारNET पेपर लीक: जांच के लिए बिहार पहुंची CBI टीम से मारपीट; नकली समझकर ग्रामीण भिड़े, गाड़ियों के तोड़े शीशे

NET पेपर लीक: जांच के लिए बिहार पहुंची CBI टीम से मारपीट; नकली समझकर ग्रामीण भिड़े, गाड़ियों के तोड़े शीशे

यूजीसी नेट पेपर लीक मामले में बिहार के नवादा जिले के कसियाडीह गांव में जांच करने पहुंची सीबीआई की टीम को नकली समझकर ग्रामीणों ने मारपीट शुरू कर दी। और गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए।

NET पेपर लीक: जांच के लिए बिहार पहुंची CBI टीम से मारपीट; नकली समझकर ग्रामीण भिड़े, गाड़ियों के तोड़े शीशे
Sandeepहिन्दुस्तान,रजौली नवादाSun, 23 Jun 2024 03:53 PM
ऐप पर पढ़ें

यूजीसी नेट पेपर लीक मामले में मोबाइल लोकेशन पर दिल्ली से सीबीआई की टीम जांच के लिए शनिवार की सुबह करीब 10 बजे बिहार के नवादा जिले के रजौली पहुंची। जांच के दौरान कसियाडीह गांव के लोगों ने सीबीआई को नकली समझकर मारपीट शुरू कर दी। और गाड़ियों में तोड़फोड़ की। सीबीआई की जांच टीम में स्थानीय पुलिस की महिला कॉन्स्टेबल समेत CBI के 4 अधिकारी शामिल थे। इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी के नेतृत्व में टीम जांच टीम रजौली के कसियाडीग गांव पहुंची थी। 

सीबीआई के अधिकारियों के साथ मारपीट की सूचना जब रजौली पुलिस को मिली तो सूचना मिलने के बाद आनन-फानन में थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर राजेश कुमार पूरे दल-बल के साथ कसियाडीह गांव पहुंचे। थानाध्यक्ष ने ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत किया। हालांकि मारपीट की घटना के बाद सीबीआई ने मोबाइल नंबर के लोकेशन के आधार पर दो मोबाइल फोन को जब्त किया और उसे अपने साथ ले गई। सीबीआई के अधिकारियों ने केवल इतना कहा कि मोबाइल नंबर के आधार पर जांच के बाद पेपर लीक मामले में शामिल लोगों को भी गिरफ्तार कर ले जाया जाएगा।

ये भी पढ़िए- NEET Paper Leak: इन परीक्षाओं के पेपर लीक कर चुका है नीट सॉल्वर गैंग, जानें गिरोह का मोडस ऑपरेंडी

पेपर लीक मामले में सीबीआई टीम से मारपीट के मामले में पुलिस ने एक महिला समेत 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। जिसमें कसियाडीह गांव के प्रिंस कुमार, एक महिला वह दो अन्य लोग शामिल हैं। थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि सीबीआई अधिकारियों के साथ मारपीट के मामले में रजौली थाने में 8 लोगों पर नामजद और 150-200 अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। एक महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।मारपीट की घटना की वीडियोग्राफी कराई गई है। मारपीट में शामिल लोगों को चिन्हित कर उस पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़िए- बिहार नहीं, यूपी-हरियाणा बॉर्डर से सबसे पहले लीक हुआ था नीट का पेपर; रवि अत्री की क्या भूमिका?

वहीं नवादा के एसपी अम्बरीष राहुल ने बताया कि यूजीसी नेट पेपर लीक मामले में सीबीआई की टीम नवादा पहुंची थी। इस दौरान टीम के अधिकारियों ने 2 मोबाइल फोन को जब्त किया है। हालांकि ग्रामीणों ने टीम को नकली समझकर उनके साथ मारपीट की। इस मामले में प्रथिमिकी दर्ज कर एक महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।